पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Barmer
  • Farmers, Youth Jammed The Nagana Mangla Processing Main Road For Two Hours For Their 11 Demands, The Protest Continued On The Fourth Day

केयर्न वेदांता कंपनी के खिलाफ हल्ला बोल:किसानों, युवाओं ने अपनी 11 मांगों को लेकर दो घंटे नागाणा मंगला प्रोसेसिंग मुख्य सड़क को किया जाम, धरना प्रदर्शन चौथे दिन भी जारी

बाड़मेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ग्रामीणों ने सड़क को किया जाम। - Dainik Bhaskar
ग्रामीणों ने सड़क को किया जाम।

बाड़मेर जिले के नागाणा स्थित केयर्न वेदांता कंपनी में स्थानीय युवाओं को रोजगार नहीं देने सहित 11 मांगों को लेकर नागाणा मंगला प्रोसेसिंग टर्मिनल सड़क मार्ग पर धरना चौथे भी जारी रहा। बुधवार को किसानों, युवाओं और जनप्रतिनिधियों ने सुबह करीब 7:30 बजे नागाणा मंगला टर्मिनल मार्ग को बंद कर मांगों को लेकर प्रदर्शन दिया। सोमवार को किसानों ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन देकर अल्टीमेटम दिया था।

बाड़मेर। नागाणा मंगला प्रोसेसिंग सड़क मार्ग को जाम करते ग्रामीण
बाड़मेर। नागाणा मंगला प्रोसेसिंग सड़क मार्ग को जाम करते ग्रामीण

ग्रामीणों का आरोप है कि बाड़मेर में केयर्न वेदांता कंपनी लंबे समय से कच्चा तेल निकालने का काम कर रही है लेकिन स्थानीय लोगों को रोजगार नहीं देने सहित 11 सूत्री मांगों को लेकर हल्ला बोल विरोध प्रदर्शन बुधवार को चौथे दिन भी जारी रहा। बुधवार को किसानों, ग्रामीणों और युवाओं ने एमपीटी नागाणा जाने वाली मुख्य सड़क को सुबह 7:30 बजे से जाम कर दिया है। करीब दो घंटे बंद रखने के बाद जाम को ग्रामीणों ने खोल दिया। ग्रामीणोंं को कहना है कि हमने दो घंटे रोड़ जाम करने का अल्टीमेटम सोमवार को जिला प्रशासन को दिया था। अब भी कंपनी हमारी मांगों नही माना तो धरना प्रदर्शन लगातार जारी रहेगा।

दरअसल, मंगलवार की शाम को जिला कलक्टर लोक बंधु, विधायक मेवाराम जैन, धरना प्रतिनिधिमंडल, कंपनी के अधिकारियों के बीच वार्ता हुई थी लेकिन वार्ता में मांगों पर पूर्ण सहमति नही बनने के कारण वार्ता विफल रही। धरनार्थियों का धरना चौथे भी जारी रहा।

पुलिस जाब्ता तैनात

नागाणा मंगला प्रोसेसिंग मुख्य मार्ग पर किसानों, ग्रामीणों द्वारा सड़क मार्ग जाम करने के दौरान भारी संख्या में पुलिस जाब्ता तैनात किया गया था। बाड़मेर डिप्टी आनंद पुरोहित, ग्रामीण थानाधिकारी पर्बतसिंह, महिला थानाधिकारी रामप्रताप, नागाणा थानाधिकारी नरपतदान मौजूद थे।

यह है प्रमुख मांगे

कम्पनी द्वारा आसपास की ग्राम पंचायतों के बेरोजगार युवाओं को योग्यता अनुसार रोजगार देने, कंपनी व वेंडर कम्पनियों द्वारा कार्य आवंटन में स्थानीय जनप्रतिनिधियों से मशविरा कर स्थानीय लोगों को कार्य आवंटन करने, स्थानीय लैंड लूजरों के वाहन लगाने, ग्राम पंचायतों में कम्पनी के सीएसआर फंड से पेयजल, शिक्षा, चिकित्सा, सड़क पर खर्च करने, कम्पनी द्वारा तेल उत्पादन के लिए ड्रिल कर कुंओं से निकाले जा रहे वेस्ट पानी को पास में कुएं खोदकर डाला जाता है। जो अत्यन्त खतरनाक होता है। सहित विभिन्न मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन चल रहा है।

खबरें और भी हैं...