फतेह खान पर फिर बने कांग्रेस के जिलाध्यक्ष:2011 से फतेह खान लगातार हैं कांग्रेस के जिलाध्यक्ष, सोशल मीडियो पर लोग दे रहे बधाइयां

बाड़मेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फतेह खान फिर बने कांग्रेस जिलाध्यक्ष। - Dainik Bhaskar
फतेह खान फिर बने कांग्रेस जिलाध्यक्ष।

राजस्थान में मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद प्रदेश कांग्रेस ने लंबे समय से अटकी जिलाध्यक्ष की घोषणा कर दी है। कांग्रेस ने बाड़मेर जिलाध्यक्ष फतेह खान पर भरोसा जताते हुए तीसरी बार जिलाध्यक्ष बनाया है। फतेह खान जुलाई 2011 में पहली बार कांग्रेस के जिलाध्यक्ष बने थे। जिला अध्यक्ष के नाम की घोषणा होने के बाद से कार्यकर्ता जिलाध्यक्ष फतेह खान को फोन पर सोशल साइट्स पर बधाई दे रहे हैं।

मारवाड़ कांग्रेस का गढ़ माना जाता रहा है। पंजाब प्रभारी हरीश चौधरी के भरोसेमंद माने जाने वाले फतेह खान को हाईकमान ने तीसरी बार जिलाध्यक्ष बना दिया है। फतेह खान का नाम पहले से ही तय माना जा रहा था क्योंकि उनके नाम पर बाड़मेर में किसी भी कांग्रेस के विधायक से लेकर मंत्री को आपत्ति नहीं थी। इसके चलते फतेह खान की घोषणा पहली लिस्ट में कर दी गई है।

दावेदारों में कांग्रेस के जिलाध्यक्ष फतेह खान जिला परिषद के सदस्य भी रह चुके है। फतेह खान के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी विधानसभा 2018 चुनावों के बाद से लगातार बाड़मेर जिले में एक के बाद एक जीत हासिल की है। वर्तमान में फतेह खान के नेतृत्व में ही दो विधानसभा चुनाव लड़े गए है। 2013 विधानसभा चुनाव में जिले की सात सीटों में से 1 सीट जीत पाई थी। इसके बाद पंचायती राज व नगर परिषद चुनावों में जीत दर्ज की थी। वर्ष 2018 का विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 6 सीटे जीती थी। नगर परिषद, पंचायती राज चुनाव में पार्टी ने जीत हासिल की थी। हालांकि लगातार दो लोकसभा चुनाव में हार का सामना करना पड़ा था।गौरतलब है कि बीते दो-तीन दशक से बाड़मेर कांग्रेस जिलाध्यक्ष पद मुस्लिम चेहरा ही रहा है। जिलाध्यक्ष फतेह खान से पहले हाजी उस्मान थे। इससे पहले कांग्रेस के जिलाध्यक्ष स्वर्गीय अब्दुल हादी थे।