बाड़मेर रिफाइनरी के पास चलती बस में आग:प्राइवेट बस से सीकर जा रहे थे 12 यात्री, नेशनल हाईवे पर सभी सवारियों को सुरक्षित उतारा

बाड़मेर5 महीने पहले
बाड़मेर (पचपदरा) रिफाइनरी के पास नेशनल हाईवे पर चलती बस में आग लग गई। इसकी लपटें दूर-दूर तक दिखाई दे रही थी।

बाड़मेर (पचपदरा) रिफाइनरी के पास नेशनल हाईवे पर मंगलवार देर रात यात्रियों से भरी बस में आग लग गई। इस निजी बस के ड्राइवर ने फौरन बस को किनारे रोका और सभी यात्रियों को नीचे उतारा। देखते ही देखते आग ने पूरी बस को चपेट में ले लिया। तब तक सभी यात्री सुरक्षित बस से बाहर निकल आए थे। उधर, हाईवे पर जाम लग गया।

हादसा पचपदरा रिफाइनरी के बेहद करीब हुआ। इसलिए यह काफी खतरनाक साबित हो सकता था। पुलिस ने दमकलों को बुलाया और आग पर काबू पाने का प्रयास किया। आग की लपटें काफी ऊंचाई तक दिखाई दे रही थीं। पूरी बस खाक हो गई।

बाड़मेर से सीकर जा रही थी बस

बस बाड़मेर से सीकर जा रही थी। उसी समय नेशनल हाईवे पर यहां यह घटना हुई। पुलिस के अनुसार, बस शाम करीब 7:30 बजे बाड़मेर से 12 सवारियों लेकर रवाना हुई थी। बीच रास्ते से 3 सवारियां और बैठी थीं। पचपदरा से पहले रिफाइनरी के पास रात 9 बजे चलती बस में आग देखकर ड्राइवर ने बस को रोका। आग देखकर सवारियाें में अफरा-तफरी मच गई। ड्राइवर ने सुझबूझ दिखाते हुए सवारियों को इमरजेंसी गेट व मेन गेट से सुरक्षित नीचे उतारा।

हाईवे पर जाम, लंबी कतारें
बस की आग इतनी भयावह थी कि पूरा रोड ब्लॉक हो गया। बस भले ही किनारे खड़ी थी, पर उठती लपटों के पास से गुजरना संभव नहीं थी। लिहाजा हाईवे पर लंबा जाम लग गया। बस पूरी तरह जल गई, तब जाकर ट्रैफिक शुरू हो पाया।

सवारियों के लिए भेजी नई बस
प्राइवेट बस संचालक ने बताया कि सीकर जा रही बस में आग लगने के बाद सवारियों के लिए बाड़मेर से नई बस भेजी गई। उस बस में सवारियों को बैठाकर रवाना किया गया। सवारियों के चेहरे पर भय साफ नजर आ रहा था। उधर, बस में आग लगती देख आसपास के दुकानदार भी मौके पर पहुंच गए थे। उन्हें आशंका थी कि कोई सवारी अंदर ही न रह गई हो। ड्राइवर से पूछताछ की तो जानकारी मिली कि सभी सवारी सुरक्षित बाहर आ गई है।

प्रशासन में मचा हड़कंप
बस में आग की सूचना मिलने के बाद पुलिस और प्रशासन में हड़कंप मच गया। बालोतरा एसडीएम नरेश सोनी, डीएसपी धनफूल मीणा, पचपदरा थानाधिकारी प्रदीप डांगा सहित अधिकारी व पुलिस जवान पहुंच गए। बस में सभी सवारियों को सुरक्षित नीचे उतारने की सूचना मिलने के बाद प्रशासन ने राहत की सांस ली।

एक महीने पहले भांडियावास में 12 लोग जिंदा जले थे
10 नवंबर को नेशनल हाईवे पर भांडियावास गांव में बस व ट्रेलर के बीच भिड़त के बाद आग लगने से 12 लोग जिंदा जल गए थे। इस हृदय विदारक हादसे को सुनकर हर कोई स्तब्ध रह गया था। मंगलवार रात को फिर बस में आग लगने की जानकारी मिलते ही प्रशासन के हाथ पांव फूल गए।