खतरा बढ़ा:काेराेना से पहली माैत, एक दिन में 30 रोगी आए, दाे एचआरसीटी मरीज भर्ती

बाड़मेर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल की न्यू टीचिंग बिल्डिंग में एक्सरे के इंतजार में बैठे लोग । - Dainik Bhaskar
अस्पताल की न्यू टीचिंग बिल्डिंग में एक्सरे के इंतजार में बैठे लोग ।
  • सीएमएचओ का दावा; 20 काेराेना पॉजिटिव, हकीकत; मेडिकल रिकॉर्ड में 30 मरीजों की पुष्टि

काेराेना की तीसरी लहर में बाड़मेर शहर के जटियाें का वास निवासी एक काेराेना संदिग्ध महिला की माैत हाे गई। गुरुवार को एक ही दिन में 3 महिलाओं सहित 30 काेराेना मरीज सामने आए। इधर, सीएमएचओ ने 20 मरीजाें की पुष्टि की है। यानी तीसरी लहर की दस्तक के साथ पॉजिटिव केस के आंकड़ों में हेराफेरी की जा रही है। बुधवार को काेराेना के 17 रोगी आए थे। इस माह के छह दिन में काेराेना के 51 केस सामने आ चुके हैं। वहीं एक्टिव केस बढ़कर 52 हाे गए हैं।

गुरुवार शाम जारी रिपोर्ट के अनुसार बाड़मेर पीएमओ क्षेत्र के 22, सीएमएचओ से 4 व बालाेतरा पीएमओ क्षेत्र से 4 काेराेना मरीजाें की पुष्टि हुई। जिला अस्पताल के काेराेना वार्ड में भर्ती तीन एचआरसीटी पाॅजिटिव मरीजाें में दाे की हालत गंभीर हाेने पर उन्हें आईसीयू में शिफ्ट किया जा रहा था कि इनमें से एक गंभीर महिला की शिफ्टिंग से पहले ही माैत हाे गई। 75 वर्षीय गंभीर महिला का एचआरसीटी स्काेर 17 का रहा।

वहीं बाड़मेर शहर की इंदिरा काॅलाेनी व टी.टी. पब्लिक स्कूल से एक-एक, जालीपा केंट से चार, मेडिकल काॅलेज से 2, सेक्टर मुख्यालय बीएसएफ (एसएचक्यू) से 2, बीएसएफ से 2, महावीर नगर से 2, सुथाराें की बस्ती इंद्राेई से एक, शिव से एक तथा एमपीटी नागाणा से 6 काेराेना मरीजाें की पुष्टि की गई। आरजीटी गुड़ामालानी से एक साथ तीन महिला व बायतु से एक काेराेना केस सामने आया।

पीएमओ बालाेतरा से रिफाइनरी के दाे, नाहटा अस्पताल से एक तथा बालाेतरा शहर के वार्ड नंबर 8 से एक काेराेना मरीज की आरटीपीसीआर रिपोर्ट पॉजिटिव रही। जिले में लगातार काेराेना केस बढ़ने के साथ जिला प्रशासन की ओर से लाेगाें काे एहतियातन ताैर पर काेविड गाइन लाइन की सख्ती से पालना के निर्देश दिए जा रहे है। वहीं मास्क की अनिवार्यता लागू की गई है। बिना मास्क लगे व्यक्तियों के 500 रुपए के जुर्माने का प्रावधान रखा गया है।

खबरें और भी हैं...