पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रशिक्षण कार्यक्रम:दुधारू पशुओं के लिए चारा बीट चुकंदर वरदान: डॉ. डी कुमार

बाड़मेर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • श्योर केयर्न फाउंडेशन का डेयरी विकास एवं पशु प्रबंधन को बढ़ावा देने के लिए साझा प्रयास का कार्यक्रम

पशुपालक दुधारू पशुओं के लिए हरा चारे की वर्ष पर्यंत उपलब्धता सुनिश्चित कर कम खर्च में अधिक उत्पादन प्राप्त करें। हरा चारा बीट चुकंदर दुधारू पशुओं के लिए वरदान साबित हो रहा है।

यह बात सोसायटी टू अपलिफ्ट रूरल इकॉनमी बाड़मेर द्वारा केयर्न फाउंडेशन के सौजन्य से संचालित डेयरी विकास एवं पशुपालन परियोजना के तहत धूड़ाराम माली कृषि फार्म मालियों का गोलिया ग्राम पंचायत करावडी में आयोजित हरा चारा बिट चुकंदर प्रदर्शन प्रक्षेत्र दिवस प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान बोलते हुए संदर्भ व्यक्ति एवं काजरी के पूर्व वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. डी कुमार ने कही। उन्होंने चारा बिट चुकंदर की महत्ता उपयोगिता की जानकारी देते हुए कहा कि चारा बिट चुकंदर क्षारीय भूमि में भी हो जाता है।

यह पशुओं को खिलाने से संतुलित पशु आहार की मात्रा कम खिलानी पड़ती है। डॉ. कुमार ने चारा बीट चुकंदर के साथ नेपियर घास, अजोला घास, चूरी, बाजरा, रिजका इत्यादि हरा चारागाह विकास करने पर जोर दिया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में बोलते हुए कार्यक्रम प्रबंधक हनुमानराम चौधरी ने उपस्थित अतिथियों एवं दुग्ध उत्पादकों का स्वागत करते हुए एवं प्रशिक्षण एवं प्रदर्शन दिवस प्रशिक्षण कार्यक्रम के उद्देश्य की स्पष्टता करते हुए कहा कि पशुओं के लिए वर्ष पर्यंत हरा चारागाह एवं संतुलित पशु आहार की उपलब्धता सुनिश्चित कर डेयरी को आजीविका का मुख्य आधार बनाएं।

उन्होंने कहा कि दुग्ध उत्पादक उन्नत नस्ल की दुधारू पशुओं का पालन करने के साथ पशुओं की समय पर जांच कराकर अस्वस्थ पशुओं की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएं। चौधरी ने डेयरी विकास एवं पशुपालन परियोजना की आगामी एक वर्षीय कार्य योजना के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्रदान कर उपस्थित उत्पादकों को परियोजना से जुड़कर लाभ लेने काे प्रोत्साहित किया। सहायक परियोजना समन्वयक मालाराम गोदारा ने चारा बीट चुकंदर पशुओं को खिलाने की विधि एवं परियोजना के तहत किए जा रहे प्रयासों के बारे में जानकारी प्रदान की गई।

कार्यक्रम में 14 महिलाओं सहित कुल 52 संभागियों ने भाग लिया। कार्यक्रम में प्रगतिशील किसान जस्साराम माली को डॉ. डी कुमार द्वारा लिखित पुस्तक वैज्ञानिक खेती पुरस्कार स्वरुप उपस्थित अतिथियों द्वारा प्रदान की गई।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

    और पढ़ें