खनिजों के अवैध परिवहन में लिप्त वाहन जब्त:अवैध खनन पर कार्रवाई में प्रदेश में 185 से अधिक मशीनें जब्त, 141 की गिरफ्तारी

बाड़मेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अवैध खनन के खिलाफ कार्यवाही को लेकर अतिरिक्त मुख्य सचिव ने दी जानकारी। - Dainik Bhaskar
अवैध खनन के खिलाफ कार्यवाही को लेकर अतिरिक्त मुख्य सचिव ने दी जानकारी।

अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ 11 जुलाई से चलाए जा रहे संयुक्त अभियान में विभाग ने कार्यवाही की रणनीति बदलते हुए बड़ी मशीनों की जब्ती और अवैध खनन गतिविधियों में लिप्त लोगों की गिरफ्तारी पर जोर दिया है। अब तक प्रदेश में करीब 100 एचईएमएम मशीनों सहित 185 से अधिक मशीनरी जब्त की जा चुकी हैं । खनिजों के अवैध परिवहन में लिप्त 2100 से अधिक वाहनों को जब्त किया जा चुका है। अतिरिक्त मुख्य सचिव माइंस, पेट्रोलियम एवं पीएचईडी डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया है कि प्रदेश में इस अवधि में 360 से अधिक एफआईआर एवं 141 से अधिक लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

माइंस एवं पुलिस विभाग की ओर से परस्पर समन्वय से प्रदेशभर में अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ कार्यवाही जारी है। बाड़मेर, पाली, जोधपुर, भीलवाड़ा व टोंक में विशेष रूप से निगरानी के निर्देश दिए गए हैं। एसीएस डॉ. अग्रवाल ने बताया कि खनन गतिविधियों में लिप्त बड़ी मशीनरी की जब्ती से विभाग सख्त संदेश देना चाहता है ताकि अवैध गतिविधियों में लिप्त लोगों में भय व्याप्त हो सके।

निदेशक माइंस संदेश नायक ने मुख्यालय स्तर पर मॉनिटरिंग व्यवस्था को और अधिक सख्त किया है जिससे अवैध गतिविधियों पर कार्यवाही और मुख्यालय स्तर से समय पर निर्देश मिलने लगे हैं। बाड़मेर टीम ने रविवार सुबह दो वाहन बजरी का अवैध परिवहन करते हुए जब्त किए हैं। उल्लेखनीय है कि जुलाई से जारी अभियान के तहत अब तक खान व पुलिस विभाग की संयुक्त कार्यवाही में 18 करोड़ रुपए से अधिक की वसूली, 141 लोगों की गिरफ्तारी, 360 एफआईआर एवं 2500 से अधिक कार्यवाही की जा चुकी है।

खबरें और भी हैं...