अनदेखी:चौहटन में 2 साल से आईटीआई कॉलेज भवन तैयार, आज तक छात्रों को नहीं मिला प्रवेश

चाैहटन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चौहटन. दो साल से उपखंड मुख्यालय पर बना आईटीआई भवन, छात्रों को नहीं मिला प्रवेश। - Dainik Bhaskar
चौहटन. दो साल से उपखंड मुख्यालय पर बना आईटीआई भवन, छात्रों को नहीं मिला प्रवेश।

उपखंड मुख्यालय पर 2 सालों से आईटीआई कॉलेज के लिए 357.50 लाख से भवन का निर्माण करवाया था, लेकिन आज तक इसमें आईटीआई छात्रों को प्रवेश नहीं मिला है। बाखासर बाईपास रोड पर 26 जुलाई 2018 को यह भवन बनकर तैयार हो गया। 2 साल से अधिक समय गुजरने के पश्चात भी इस भवन में नियमित कक्षाएं शुरू नहीं हो पाई।

इस जुलाई से इस क्षेत्र के 14 छात्रों ने आवेदन किया, इसमें से 12 छात्रों ने रामसर जाकर अपना शिक्षण सत्र पूरा करने के लिए अध्ययन चालू किया। चौहटन आईटीआई में एक अनुदेशक तथा एक लिपिक अभी कार्यरत है लेकिन भवन में तकनीकी शिक्षा चालू नहीं होने के कारण इनको रामसर में ही लगाया गया है।

चौहटन के आईटीआई केंद्र पर इलेक्ट्रिशियन, फीटर, डीजल मैकेनिक तथा वेंडर 4 वर्गों की स्वीकृति मिली हुई है। लेकिन अभी तक एक भी वर्ग में छात्रों को प्रवेश नहीं मिल रहा है। इस संबंध में कई बार स्थानीय जनप्रतिनिधियों व प्रशासनिक अधिकारियों से कॉलेज शुरू करवाने की मांग लोग कर चुके है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

क्षेत्र में आईटीआई शुरू नहीं होने से यहां के युवाओं को रोजगारोन्मुखी तकनीकी कौशल प्राप्त करने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस वजह से मजबूरन बाहर की आईटीआई में प्रवेश लेना पड़ रहा है।-अजीत सिंह राठौड़, अधिवक्ता एवं पूर्व उप सरपंच चौहटन

चौहटन स्थित आईटीआई केंद्र का सामान शिफ्टिंग नहीं होने के कारण चौहटन क्षेत्र के छात्रों का रामसर में तकनीकी कौशल दिया जा रहा है। सामान शिफ्टिंग की प्रक्रिया जल्द ही प्रारंभ की जाएगी। इसके बाद ही चौहटन में सेंटर शुरू होगा।-राजकुमार, कार्यवाहक प्रींसिपल, आईटीआई कॉलेज चौहटन।

खबरें और भी हैं...