समर्थन मूल्य:मूंग की 1 से व मूंगफली की 18 नवंबर से होगी खरीद, जिले में 8 केंद्र तैयार

बाड़मेर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ऑनलाइन पंजीयन 20 अक्टूबर से होगा शुरू,प्रदेश में 868 केंद्रों पर समर्थन मूल्य पर खरीद से किसानों को मिलेगी राहत

प्रदेश में समर्थन मूल्य पर मूंग, उड़द, सोयाबीन एवं मूंगफली की खरीद के लिए ऑनलाइन पंजीकरण 20 अक्टूबर से शुरू किया जा रहा है। 868 से अधिक खरीद केन्द्रों पर मूंग, उड़द एवं सोयाबीन की 1 नवंबर से तथा 18 नवंबर से मूंगफली की खरीद की जाएगी।वहीं बाड़मेर में 8 केंद्रों पर समर्थन मूल्य पर खरीद होगी। सरकार ने मूंग के लिए 357, उड़द के लिए 168, मूंगफली के 257 एवं सोयाबीन के लिए 86 खरीद केन्द्र चिह्नित किए गए हैं।

किसानों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं हो इसके लिए ऑनलाइन पंजीकरण की व्यवस्था ई मित्र एवं खरीद केंद्रों पर सुबह 9 से शाम 7 बजे तक की गई है। मूंग की 3.61 लाख मीट्रिक टन, उडद 61807 मीट्रिक टन, सोयाबीन 2.93 लाख तथा मूंगफली 4.27 लाख मीट्रिक टन की खरीद के लक्ष्य की स्वीकृति भारत सरकार ने दी है। पंजीकरण के अभाव में किसानों से समर्थन मूल्य पर खरीद संभव नहीं होगी।इस बार सरकार ने वर्ष 2021-22 के लिए मूंग के लिए 7275 रुपए एवं उड़द के लिए 6300 रुपये, मूंगफली के लिए 5500 रुपए एवं सोयाबीन के लिए 3950 रुपये प्रति क्विंटल समर्थन मूल्य घोषित किया है।

किसानों को अपनी उपज बेचने में किसी प्रकार की परेशानी न हो इसके लिए खरीद केंद्रों पर आवश्यकतानुसार तोल-कांटे लगाए जाएंगे एवं पर्याप्त मात्रा में बारदाना उपलब्ध कराया जाएगा। प्रमुख शासन सचिव सहकारिता दिनेश कुमार ने बताया कि किसान को जनआधार कार्ड नम्बर, खसरा गिरदावरी की प्रति एवं बैंक पासबुक की प्रति पंजीयन फार्म के साथ अपलोड करनी होगी। जिस किसान ने बिना गिरदावरी के अपना पंजीयन करवाया जाएगा, उसका पंजीयन समर्थन मूल्य पर खरीद के लिए मान्य नहीं होगा। यदि ई मित्र द्वारा गलत पंजीयन किए जाते हैं या तहसील के बाहर पंजीकरण किए जाते हैं तो ऐसे ई मित्रों के खिलाफ कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

बाड़मेर में इन आठ केंद्रों पर होगी मूंगफली की खरीद
जिले में समर्थन मूल्य पर मूंगफली, मूंग समेत अन्य अनाज की खरीद होगी। एमडी सीसीबी रामसुख चौधरी ने बताया कि जिले में बायतु, गुड़ामालानी, बालोतरा, सिवाना, सिणधरी व शिव में समर्थन मूल्य पर खरीद की जाएगी। कानासर में जीएसएस के माध्यम से खरीद केंद्र संचालित हो रहा है। राज्य सरकार की गाइडलाइन के अनुसार केंद्र शुरू करने की तैयारियां चल रही है। किसान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाकर अपना अनाज केंद्र पर बेच सकेंगे।

खबरें और भी हैं...