वन एवं पर्यावरण मंत्री हेमाराम चौधरी बोले:चुनाव जीतने के बाद किसी का नुकसान करने का कोई अधिकार नहीं

बाड़मेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वन मंत्री को पुष्पाहार से अभिनंदन करते हुए लोग। - Dainik Bhaskar
वन मंत्री को पुष्पाहार से अभिनंदन करते हुए लोग।

राज्य सरकार में वन एवं पर्यावरण मंत्री बनने के बाद प्रथम बार बाड़मेर आने पर किसान छात्रावास में हेमाराम चौधरी का स्वागत समारोह का आयोजन किया गया। कैबिनेट मंत्री हेमाराम चौधरी ने अपने संबोधन में कहा कि लोगों की दुआओं से यह सम्मानित पद प्राप्त हुआ है। जो दायित्व दिया गया है उसे पूरी तरह से निभाने का प्रयास करूंगा। उन्होंने कहा कि प्रेरणा प्रतिद्वंदी से भी मिल सकती है। चुनाव जीतने के बाद किसी का नुकसान करने का किसी को अधिकार नहीं है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे जिला प्रमुख महेंद्र चौधरी ने कहा कि हेमाराम चौधरी स्पष्टवादी, सरलता एवं सादगी पसंद व्यक्तित्व है। इन्होंने हमेशा किसानों, बेरोजगारों की आवाज उठाई। महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय बीकानेर के पूर्व कुलपति डॉ. गंगाराम जाखड़ ने कहा कि बाड़मेर के लिए गर्व की बात है कि हेमाराम चौधरी मार्गदर्शन के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं। उन्हें अपनी कार्यशैली के कारण जनता स्नेह मिल रहा है। पायला कला प्रधान चुन्नीलाल माचरा, डॉ. गणपत स्वरूप चौधरी, शिक्षक संघ प्रदेशाध्यक्ष बनाराम चौधरी, शिव के पूर्व प्रधान उदाराम मेघवाल, कैलाश चौधरी ने भी संबोधित किया।

किसान छात्रावास अध्यक्ष एडवोकेट बलवंत सिंह चौधरी ने कहा कि कथनी और करनी में अंतर नहीं होना चाहिए। सचिव डालूराम चौधरी ने कहा संघर्ष और ईमानदारी की बदौलत हेमाराम चौधरी ने कैबिनेट में स्थान बनाया है। सिणधरी के पूर्व प्रधान सोहन लाल भांभू ने भी समारोह को संबोधित किया।

इस दौरान कमांडेंट जोरसिंह सऊ, शिव प्रधान महेंद्र जाणी, बाड़मेर ग्रामीण प्रधान जेठी देवी, जवाहरलाल माहेश्वरी, नरसिंह सोलंकी, सोनाराम के हाट, अमृत कौर, सुनीता चौधरी, पोकरराम सऊ, दिलीप थोरी, हरिराम माचरा, तोगाराम गोदारा, भीखाराम थोरी, हुकमाराम सऊ, महेंद्र पोटलिया, खेताराम बेनीवाल, चैनाराम, जोगाराम सारण, नुकलाराम डूडी, सेडूराम चौधरी सहित कई लोग उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...