एमबीसी महिला कॉलेज में एनएसएस शिविर:प्राचार्य डॉ. हुकमाराम सुथार ने कहा- एनएसएस का मूल लक्ष्य व्यक्तित्व का विकास करना

बाड़मेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एनएसएस शिविर में उपस्थित कॉलेज की छात्राएं। - Dainik Bhaskar
एनएसएस शिविर में उपस्थित कॉलेज की छात्राएं।

एनएसएस का मूल लक्ष्य समाज सेवा के माध्यम से विद्यार्थियों के व्यक्तित्व का विकास करना है। उक्त विचार प्राचार्य डॉ. हुकमाराम सुथार ने एमबीसी राजकीय स्नातकोतर कन्या महाविद्यालय बाड़मेर में राष्ट्रीय सेवा योजना इकाइयों का अभिमुखीकरण कार्यक्रम एवं क्लस्टर शिविर में व्यक्त किए। डॉ. सुथार ने बताया कि राष्ट्रीय सेवा योजना जहां एक ओर विद्यार्थी के व्यक्तित्व का विकास तो करती ही है साथ ही विभिन्न जागरूकता परक कार्यक्रमों के माध्यम से महिलाओं के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने का काम भी करती है।

कलस्टर कैंप में जानकारी देते हुए बताया कि स्वयंसेविकाएं स्वयं मतदान के प्रति जागरुक हो तथा अन्य को जागरुक करें। मतदाता अपने मत का प्रयोग कर प्रजातंत्र को मजबूत बनाए और मतदान ही लोकतांत्रिक देश की दशा एवं दिशा तय करता है। प्रो. मुकेश पचौरी ने बताया कि भारतीय चुनाव आयोग के अनुसार, वोटर हेल्पलाइन एप को डिजाइन करने का मकसद देश के आम नागरिक को चुनाव प्रक्रिया व उससे जुड़ी हर स्तर की जानकारी उपलब्ध कराना है।

वोटर हेल्पलाइन मोबाइल एप चुनाव आयोग के पोर्टल से लाइव डेटा अपडेट करती है। इसका मकसद वोटर्स को चुनावी प्रक्रिया के बारे में एज्युकेट और मोटीवेट करना है। इस अवसर पर एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी प्रो.देवाराम, प्रो. गणेश कुमार, प्रो.मांगीलाल जैन, प्रो.जितेन्द्र बोहरा, एनसीसी प्रभारी प्रो. सरिता लीलड उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...