मनमानी बजरी दरें व गुंडागर्दी के विरोध में आंदोलन जारी:RLP नेता बोले- दीवाली को भी रहेगा जारी, सांसद बेनीवाल आएंगे बाड़मेर

बाड़मेरएक महीने पहले
आरएलपी का आंदोलन पांचवे दिन भी जारी।

मनमानी बजरी दरों व गुंडागर्दी के विरोध में बालोतरा उपखंड में रालोपा द्वारा आंदोलन लगातार जारी है। धरना शुक्रवार को पांचवे दिन भी जारी रहा। धरणार्थियों के साथ प्रशासन की वार्ता भी हुई लेकिन वार्ता बेनतीजा खत्म हुई। रालोपा ने जिले भर के अलग-अलग उपखंड में बजरी दरें कम करने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा। रालोपा प्रदेश महामंत्री उम्मेदाराम बेनीवाल ने कहा कि सरकार व प्रशासन धैर्य की परीक्षा नहीं ले। दीपावली के त्योहार के अवसर पर धरना जारी रहेगा। दीवाली के बाद आरएलपी सुप्रीमों एवं सांसद हनुमान बेनीवाल आंदोलन को तेज करने के लिए आ सकते है।

रालोपा के पदाधिकारियों और एसडीएम, एएसपी व थानाधिकारी के बीच हुई वार्ता, रही विफल।
रालोपा के पदाधिकारियों और एसडीएम, एएसपी व थानाधिकारी के बीच हुई वार्ता, रही विफल।

दरसअल, सुप्रीम कोर्ट की रोक हटने के बाद बाड़मेर जिले के पचपदरा, समदड़ी इलाके में 1 सितंबर से वैध बजरी खनन शुरू हुआ। लेकिन ठेकेदार द्वारा मनमाने तरीके से 550 रुपए प्रति मीट्रिक टन से रुपए वसूल रहे है। अवैध खनन से शुरू हुआ बजरी माफिया व रॉयल्टी कार्मिकों का विवाद लगातार बढ़ता जा रहा है। आए दिन मारपीट, तोड़फोड़, आग लगाने, फायरिंग जैसी घटनाएं हो रही है। एक तरफ जनता को लूटने का काम किया जा रहा है तो दूसरी तरफ स्थानीय लोगों में गुंडागर्दी की वजह से भय का माहौल है। बालोतरा में उपखंड में पांच दिनों से धरना चल रहा है। धरना स्थल पर सरकार को सद्बुद्धि देने के लिए यज्ञ भी किया गया। साथ ही रात के समय में भजन कीर्तन कर रहे है। गुरुवार को प्रत्येक उपखंड मुख्यालय पर ज्ञापन भी दिए गए।

धरना स्थल पर भजन कीर्तन करते धरणार्थी।
धरना स्थल पर भजन कीर्तन करते धरणार्थी।

रालोपा प्रदेश महामंत्री उम्मेदाराम बेनीवाल ने कहा कि सरकार व प्रशासन धैर्य की परीक्षा नहीं ले। दीपावली के त्योहार के अवसर पर धरना जारी रहेगा। कांग्रेस और बीजेपी नेता की जनता से बजरी दर लूट में शामिल है। इस भ्रष्टाचारी जाल में भ्रष्ट अधिकारियों के शामिल होने से रॉयल्टी के गुंडों द्वारा खुलेआम फायरिंग, बर्बरतापूर्ण मारपीट व हत्याएं करने की घटनाएं हो रही हैं। लेकिन उस पर सरकार व प्रशासन कोई अंकुश नहीं लगा रहे हैं क्योंकि सत्ताधारी व दोनों पार्टियों के नेताओं का उनको संरक्षण प्राप्त है। सरकार व प्रशासन की मंशा के अनुसार हिटलर व तानाशाही रवैये के राह पर चल रही है। इसमें बजरी माफिया ठेकेदार के साथ सत्ताधारी व स्थानीय नेताओं की हिस्सेदारी चल रही हैं।

प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य गजेंद्र चौधरी ने कहा कि सरकार व भाजपा नेताओं की दोगली नीति के कारण बजरी मनमानी लूट की जा रही है। भ्रष्ट तंत्र व माफियाओं की बेसाखियों पर शासन व प्रशासन चल रहा है। कल्याणपुर ब्लॉक अध्यक्ष थानसिंह डोली ने कहा सरकार व सत्ताधारी नेता बजरी ठेकेदार के लालच में आकर स्वार्थी बन गए हैं उनको जनता से कोई मतलब नहीं है। सिर्फ दोनों पार्टियों के नेता बयानवीर बने हुए हैं आरोप-प्रत्यारोप तक सीमित है।

प्रशासन के साथ हुई वार्ता विफल

धरने के चौथे दिन डाक बंगले में रालोपा नेता उम्मेदाराम बेनीवाल, धरणार्थियों और एसडीएम विवेक व्याास, एएसपी नितेश आर्य, बालोतरा सीआई उगमराज सोनी के बीच वार्ता हुई। लेकिन करीब दो घंटे तक चली वार्ता के बाद भी सहमति नहीं बन पाई है।

धरना स्थल पर भजन कीर्तन
बालोतरा उपखंड मुख्यालय पर चल रहे धरना स्थल पर रात के समय दो-तीन घंटे भजन कीर्तन किया जाता है। वहीं, रालोपा द्वारा सरकार व प्रशासन को जागने के लिए सद्बुद्धि यज्ञ भी किए गए।