अपहरण, लूट व मारपीट करने वाले 2 बदमाश गिरफ्तार:भाईयों ने भाई का किडनैप कर हाथ पैर तोड़े, मांगी फिरौती

बाड़मेर5 महीने पहले
पुलिस के हत्थे चढ़े अपहरण करने वाले बदमाश।

बाड़मेर शहर में भाई व चचेरे भाई ने अपने ही भाई का अपहरण कर मारपीट कर फिरौती मांगी। गंभीर घायल हालात में फेंक कर चले गए थे। पुलिस ने 15 दिन बाद गैंग का खुलासा करते हुए दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इस गैंग द्वारा शहर में पहले भी एक युवक का अपहरण किया है। पुलिस बदमाशों से सहयोगियों को लेकर पूछताछ कर रही है।

कोतवाली थाने में दो अलग-अलग अपहरण के मामले दर्ज हुए थे। अपहरण करने वाली गैंग एक ही थी। तारातरा हाल शास्त्री नगर निवासी सुरेश कुमार ने 12 जून को रिपोर्ट दी थी कि रात को थार अस्पताल के पास स्कार्पियो गाड़ी ने बाइक को टक्कर मार कर गिरा दिया। गाड़ी में पंकज गोदारा, भंवराराम, अशोक, हेमंत, देवा ने अपहरण कर स्कार्पियो गाड़ी में डाला। शराब पिलाई व पिस्टल दिखाकर मारपीट कर रेलवे ग्राउंड के पास फैंक कर चले गए। इसी तरह 17 जून को खीयाराम निवासी रामदरिया हाल शास्त्रीनगर ने रिपोर्ट दी कि 13 जून को दिनदहाड़े सदर थाने से कुछ ही दूरी पर बाइक को टक्कर मार कर आदूराम को नीचे गिराया। भाई भंवराराम व चचेरे भाई पंकज गोदारा सहित अन्य लोगों ने अपहरण कर सुनसान जगह ले जाकर आदूराम मारपीट कर हाथ पैर तोड़ दिए। रुपए व सोने के आभूषण सहित चुरा कर ले गए। फिर परिवार वालों से फिरौती भी मांगी। पुलिस ने दोनों मामलों को दर्ज कर बदमाशों की तलाश शुरू की।

कोतवाल उगमराज सोनी के मुताबिक बदमाशों को पकड़ने के लिए थाना स्तर हेड कांस्टेबल पदमपुरी, कांस्टेबल रतन सिंह, हरजीराम की टीम बनाई गई। बदमाशों की तलाश शुरू की गई। टीम ने बदमाशों के ठिकानों पर निगरानी रखी गई। मुखबिर व साइबर टीम की मदद से मुख्य आरोपी पंकज गोदारा (23) पुत्र दीपाराम और भंवराराम गोदारा (28) पुत्र कुंभाराम निवासी रामदेरिया हाल शास्त्री नगर को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस दोनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है।