2बच्चों की मां की संदिग्ध हालात मौत, कार्रवाई की मांग:पीहर पक्ष ने एसपी मिलकर लगाई न्याय की गुहार

बाड़मेरएक महीने पहले
पीहर पक्ष ने एसपी को ज्ञापन सौंपकर न्याय की गुहार लगाई।

बाड़मेर जिले के चौहटन थाना क्षेत्र के तारातरा में 20 जून को टांके में डूबने से 26 वर्षीय विवाहिता की संदिग्ध मौत हो गई थी। घटना के बाद मृतका के पिता डूंगराराम ने पति, सास, ननद और नाना ससुर के खिलाफ चौहटन थाने में बेटी की दहेज हत्या का मामला दर्ज करवाया था। करीब दो हफ्ते बाद भी जब इस मामले में कार्रवाई नहीं हुई तो मृतका के परिजनों ने मंगलवार को जिला मुख्यालय पहुंचकर एसपी के नाम ज्ञापन सौंपा है और आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की है।

मृतका के काका ने पूनमाराम बताया कि 20 जून को मंजू पीहर में ही थी। उसी दिन दोपहर 3 बजे के करीब उसका पिता डूंगराराम उसे ससुराल छोड़कर आया था। इसके 3 घंटे बाट पीहर पक्ष को सूचना मिली की मंजू की टांके में गिरने से मौत हो गई है। परिजनों का आरोप है कि ससुराल पक्ष के लोगों ने मंजू की सुनियोजित तरीके से हत्या की है। मामले की जांच चौहटन डीएसपी कर रहे है। पुलिस ने पीहर पक्ष के बयान ले लिए है। पुलिस 15 दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। जब भी पुलिस के पास जाते है तो कहते है कि मेडिकल रिपोर्ट आई नहीं है। जांच चल रही है।

यह था मामला

धनाऊ शशिबेरी निवासी डूंगराराम ने पुलिस को रिपोर्ट दी थी कि तारातरा निवासी मंजू पत्नी अशोक कुमार की शादी 6 साल पहले हुई थी। शादी के दो साल बाद बेटी को दहेज के लिए परेशान करते थे। कई बार सामाजिक स्तर पर पंच-पंचायती हुई। समझाने के बाद भी ससुराल वाले मान नहीं रहे थे। 20 जून को दोपहर के समय में पीहर से सुसराल छोड़ा था। रात को फोन आया कि बेटी की मौत हो गई। मृतका को दहेज लालच के लिए पति अशोक कुमार, सासु कुम्पी, नणद वर्षा ने मार दिया। काकी ससुर पूनमाराम दहेज मांगने के लिए प्रेरित करता था। पुलिस ने रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर लिया था।