तेज रफ्तार डंपर ने 3 को रौंदा, 2 की मौत:टक्कर के बाद एक उछलकर दूर गिरा, बाकी दोनों को कुचलते हुए निकला

बाड़मेर2 महीने पहले
तेज रफ्तार डंपर ने बाइक सवार को मारी टक्कर, दो कुचला, गंभीर घायल अस्पताल में जिंदगी व मौत से जूझ रहा है। - Dainik Bhaskar
तेज रफ्तार डंपर ने बाइक सवार को मारी टक्कर, दो कुचला, गंभीर घायल अस्पताल में जिंदगी व मौत से जूझ रहा है।

बाड़मेर में तेज रफ्तार डंपर ने देर रात बाइक पर जा रहे तीन लोगों को कुचल दिया। भीषण सड़क हादसे में दो लोगों की मौत हो गई। वहीं, एक गंभीर रूप से घायल हो गया। इसे जोधपुर रेफर कर दिया गया है। हादसे के बाद लोगों ने करीब डेढ-दो घंटे तक हाईवे जाम कर प्रदर्शन किया। सदर थानाधिकारी अनिल कुमार मौके पर पहुंचे। लोगों को समझाया, लोग शव को मोर्चरी में रखने के लिए राजी हुए। ऐसा बताया जा रहा है कि दो दोस्त नागौर से बाड़मेर दोस्त की शादी में शामिल होने के लिए आए थे।

भीषण टक्कर में दो बाइक सवार के सिर से डंपर का टायर निकल गया।
भीषण टक्कर में दो बाइक सवार के सिर से डंपर का टायर निकल गया।

पुलिस के अनुसार शुक्रवार रात को करीब 12 बजे चौहटन चौराहे से 100 मीटर दूर माधव होटल महाबार सर्किल पर एक डंपर ने बाइक को टक्कर मार दी। बाइक पर सवार मनोज जटिया, विक्रम चौधरी, मुकेश जाट हाइवे के सर्किल को क्रॉस करके बाजार की तरफ निकल रहे थे। इसी दौरान चौहटन चौराहे की तरफ से आ रहे तेज रफ्तार डंपर ने बाइक को चपेट में ले लिया। बाइक सवार दो लोगों को डंपर ने कुचल दिया। हादसा इतना भीषण था कि एक बाइक सवार उछलकर दूर जाकर गिरा तो दो बाइक सवार डंपर के नीचे आ गए। डंपर दोनों को कुचलता हुआ बाइक को करीब 50 फुट तक घसीट कर ले गया। हादसे में मनोज और विक्रम चौधरी की मौके पर दर्दनाक मौत हो गई। एक गंभीर रूप से घायल मुकेश पुत्र छोटूराम को जिला अस्पताल पहुंचाया गया। वहां पर डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद जोधपुर रेफर कर दिया गया।

गुस्साए लोगों ने हाइवे पर लगाया जाम, डेढ-दो घंटे बाद समझाने के बाद खुला जाम।
गुस्साए लोगों ने हाइवे पर लगाया जाम, डेढ-दो घंटे बाद समझाने के बाद खुला जाम।

हादसे के बाद भारी संख्या भीड़ हुई जमा

हादसे के बाद हाइवे व चौराहे के पास आबादी क्षेत्र होने के कारण लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। गुस्साए लोगों ने प्रशासन, पुलिस व एनएचआई के खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया। दोनों के शव को यहां से ले जाने से मना कर दिया। सदर थानाधिकारी अनिल कुमार व कोतवाल के आने के बाद लोगों को समझाया गया। इसके बाद मामला शांत करवाया गया।

गुस्साए लोगों ने हाइवे पर लगाया जाम, स्पीड ब्रेकर की मांग

लोगों ने आक्रोश जताया कि इस चौराहे पर स्पीड ब्रेकर नहीं है, पूर्व में भी कई लोगों की जान चली गई। यहां वाहनों की गति को कम करने के लिए स्पीड ब्रेकर बनाए जाए। सदर थानाधिकारी अनिल कुमार ने आश्वास्त किया कि एनएचएआई को इसके लिए अवगत करवाया जाएगा। स्पीड ब्रेकर बनाएंगे। इसके बाद शव मौके से हटाए और जिला अस्पताल मोर्चरी में रखवाए गए है। पुलिस ने डंपर को सदर थाने में खड़े करवा दिया है।

तीनों मजदूर, प्लास्टर करते है काम

जानकारी अनुसार बाड़मेर और नागौर निवासी तीनों युवक मजदूर हैं। प्लास्टर का काम करते हैं। तीनों महाबार सर्किल के पास ही एक दुकान से वापिस जटियों का वास जाने के लिए बाइक पर निकले थे।