पाकिस्तान बॉर्डर के पास संदिग्ध युवक से हड़कंप:पहले खुद को जोधपुर का बताया, फिर बिहार; बॉर्डर पार जाने का शक

बाड़मेर3 महीने पहले

बाड़मेर बॉर्डर की सुरक्षा को चकमा देकर एक संदिग्ध युवक के बॉर्डर पार पाकिस्तान पहुंचने की आशंका जताई जा रही है। जो तीन दिन पहले दिखाई दिया था। तब से सुरक्षा एजेंसियों व BSF संदिग्ध युवक की बॉर्डर के गांवों में तलाश कर रही है। अभी तक संदिग्ध युवक का पता नहीं लगा है। BSF की पाक रेंजर्स के साथ हुई फ्लैग मीटिंग में पाकिस्तान ने किसी युवक के आने से इनकार किया है। सूत्र बताते है कि संदिग्ध युवक भारतीय सीमा से पाकिस्तान में घुसने में सफल हो गया है। अब एजेंसियां संदिग्ध की तलाश कर रही है।

गडरा रोड थानाधिकारी प्रभुराम के मुताबिक युवक की सूचना मिलने पर जयसिंधर स्टेशन पहुंचे थे, लेकिन ग्रामीणों की चकमा देकर गायब हो गया है। ग्रामीणों ने बताया कि युवक बस से जयसिंधर स्टेशन पहुंचा था। तलाश की गई लेकिन अभी तक मिला नहीं है। अभी भी तलाश जारी है।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक युवक 21 मई दोपहर करीब 4 बजे बाड़मेर से जयसिंधर स्टेशन जाने वाली बस में बैठा था। करीब 7 बजे जयसिंधर स्टेशन पहुंचा। बस स्टेशन पर उतर कर इधर-उधर घूमने लगा। ग्रामीणों को व्यक्ति संदिग्ध लगा। रात का समय होने की वजह से ग्रामीण सतर्क हो गए। ग्रामीणों ने युवक से पूछताछ शुरू की।

संदिग्ध युवक ने ग्रामीणों को किया गुमराह

ग्रामीणों ने संदिग्ध युवक से पूछा की कहां से आया है और कहा जा रहा था। युवक ने ग्रामीणों से कहा कि बॉर्डर घूमने के लिए आया हूं और जोधपुर प्रतापनगर का निवासी हूं। ग्रामीणों को युवक की भाषा में बिहारी जैसी झलक दिखी। ग्रामीणों ने फिर पूछा तो युवक ने बिहार का रहने वाला बताया। इस पर ग्रामीणों ने सुरक्षा एजेंसियों, जनप्रतिनिधियों व पुलिस को सूचना दी।

गांव की गलियों में घुसा, फिर हुआ गायब

संदिग्ध युवक को भनक लग गई कि ग्रामीणो ने सुरक्षा एजेंसियों को सूचना दे दी है। संदिग्ध ने गांव में हाथ ठेले वाले से फल-फ्रूट खरीदें। कुछ देर तक स्टेशन पर घूमता रहा। हल्के अंधेरे में गांव वालों को चकमा देकर गांव की गली में घुसा और कुछ ही मिनटों में गायब हो गया। ग्रामीणों ने संदिग्ध की अपने स्तर पर तलाश की, लेकिन युवक नहीं मिला।

जससिंधर स्टेशन गांव से मुनाबाव बॉर्डर की दूरी करीब 10-15 किलोमीटर है। रात करीब ग्यारह बजे एजेंसियों के अधिकारी व पुलिस इस संदिग्ध को लेने के लिए जसंसिंधर पहुंचे, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। अंदेशा लगाया जा रहा है कि संदिग्ध युवक रेलवे ट्रेक से होते हुए बॉर्डर तक पहुंच गया। वहां से सीमा पार हो गया।

ग्रामीणों के साथ पूरी रात तक चला सर्च ऑपरेशन

संदिग्ध युवक को पकड़ने के लिए सुरक्षा एजेंसियों और पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से 21 मई की रात को सर्च ऑपरेशन चलाया। संदिग्ध को पकड़ने के लिए टॉर्च की रोशनी की मदद से रात भर सर्च ऑपरेशन चलाया, लेकिन आंधी चलने की वजह से संदिग्ध पदचिह्न भी नहीं मिले। दूसरे दिन बॉर्डर के गांवो में युवक की तलाश की लेकिन कई नहीं मिला।

फ्लैग मीटिंग में पाक ने किया इंकार

बीएसएफ के अधिकारी के मुताबिक पाक रेंजर्स व बीएसएफ के बीच फ्लैग मीटिंग हुई। इसमें संदिग्ध युवक के बारे में रेंजर्स से पूछा गया, लेकिन उन्होंने घुसपैठ से इनकार किया। युवक ने जिंस व शर्ट पहन रखा था, इसके पास एक बैग था, इसके बाहर पानी की बोतल लटक रही थी। कद काठी से वह सिविलियन नहीं लग र हा था। युवक की तलाश अब भी जारी है।