पेट्रोल 9.55 व डीजल 7.21 रुपए सस्ता:लोग बोले-राज्य सरकार महंगाई-महंगाई कर रही थी अब वेट घटाए

बाड़मेरएक महीने पहले
बाइक सवार पेट्रोल पंप पर तेल भरवाते हुए। - Dainik Bhaskar
बाइक सवार पेट्रोल पंप पर तेल भरवाते हुए।

लगातार बढ़ती महंगाई पर अंकुश लगाने के लिए केंद्र सरकार ने लोगों को बड़ी राहत देते हुए 8 रुपए व डीजल 6 रुपए प्रति लीटर एक्ससाइज ड्यूटी घटाई है। बाड़मेर में पेट्रोल 9 रुपए 55 पैसे व डीजल के 7 रुपए 21 पैसे सस्ता हुआ है। वहीं, लोगों का कहना है कि राज्य सरकार महंगाई-महंगाई कर रही थी अब राज्य सरकार को भी वेट घटाकर राहत देनी चाहिए।

दरअसल, बाड़मेर जिले में बीते 6 साल में पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर नजर डाले तो चौंकाने वाले तथ्य सामने आए है। वर्ष- 2016 में बाड़मेर में पेट्रोल 63.31 व डीजल 48.83 रुपए प्रति लीटर था। लेकिन वर्तमान की कीमतों पर गौर करें तो पेट्रोल-डीजल के भाव दुगुने हो गए है। एक साल पहले पेट्रोल की कीमत 93.24 रुपए तो डीजल 85.13 रुपए प्रति लीटर था। उसके बाद एक साल में भी काफी उछाल आया। तीन माह में सरकार ने काफी कीमतें बढ़ाई थी, जनवरी-2022 के बाद पेट्रोल 7 रुपए तो डीजल 10 रुपए महंगा हुआ है। पेट्रोल व डीजल पर एक्ससाइज ड्यूटी कम करने के बाद लोगों की अलग-अलग प्रतिक्रिया आ रही है।

पेट्रोल में 9 रुपए 55 पैसे व डीजल में 7 रुपए 21 पैसे की कमी आई है। शनिवार को पेट्रोल 119.75 व डीजल 102.49 रुपए में बिक रहा था। आज रविवार को पेट्रोल 110.20 व डीजल 95.28 रुपए में बिक रहा है।

बाड़मेर लूणू निवासी विजयसिंह का कहना है कि पेट्रोल व डीजल के दाम घटने से महंगाई पर जरूर कुछ राहत मिलेगी। रमेश का कहना है कि तेल के दाम कम होने से जरूर महंगाई कम होगी। अब राज्य सरकार से उम्मीद है कि राज्य सरकार पेट्रोल व डीजल पर वेट कम करेंगा। पेट्रोल व डीलज के दाम कम होने पर ट्रांसपोर्ट का भाड़ा कम होगा इससे महंगाई से जरूर कुछ राहत मिलेगी।