मिट्‌टी ढहने से 20 फीट गहरे कुएं में मजदूर दबा:1 घंटे चला रेस्क्यू, 5 जेसीबी, दर्जनों लोगों की मदद से निकाला बाहर

बाड़मेरएक महीने पहले
5 जेसीबी व आसपास के दर्जनों लोगों ने रेस्क्यू कर निकाला बाहर।

कुएं की खुदाई करने के दौरान मिट्‌टी ढहने से मजदूर नीचे दब गया। साथ मे काम रहे मजदूर ने आसपास के लोगों को पुलिस व प्रशासन को सूचना दी। करीब एक घंटे के रेस्क्यू के बाद मृत बुजुर्ग मजदूर को बाहर निकाला गया। घटना बाड़मेर जिले के गुड़ामालानी बोरली बारासण गांव की है। सूचना पर एसडीएम, तहसीलदार व गुड़ामालानी सीआई मौके पर पहुंचे। करीब चार-पांच जेसीबी मशीनों व दर्जनों लोगों की मदद से बुजुर्ग को बाहर निकाला गया। कुआं 20 फीट गहरा खोदा गया था।

दरअसल, बोरली बारासण निवासी भमरसिंह पुत्र समर्थसिंह के खेत में कुआं खुदाई का काम बीते 8-10 से चल रहा था। शुक्रवार को कुआं खुदाई के दौरान कारीगर कुएं में फर्मा बांधने का काम कर रहा था। एक मजदूर बाहर से मदद कर रहा था। अचानक मिट्‌टी ढहने से कुआं ढह गया। कारीगर हरीराम विश्नोई (50) पुत्र उदाराम निवासी कांधी की ढाणी मलबे में दब गया। बाहर खड़े मजदूर ने आसपास के लोगों को बुलाया।

पुलिस व प्रशासन को सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे। तब तक लोगों ने अपने स्तर पर रेस्क्यू शुरू कर दिया। प्रशासन पहुंचने के बाद 5 जेसीबी मशीनों की मदद से करीब एक घंटे के रेस्क्यू के बाद बुजुर्ग कारीगर को बाहर निकाला गया। एंबुलेंस से गुड़ामालानी हॉस्पिटल ले जाया गया। वहां पर डॉक्टरों ने उस मृत घोषित कर दिया गया।

एसपी दीपक भार्गव के मुताबिक करीब डेढ़ घंटे बाद युवक को बाहर निकाला गया। मेडिकल टीम को मौके पर लगा था कि बुजुर्ग जीवित है। गुड़ामालानी हॉस्पिटल ले जाया गया वहां ले जाने के बाद उसे मृतक घोषित किया गया है।

गुड़ामालानी सीआई रमेश ढाका के मुताबिक नीचे दबे कारीगर को बाहर निकाला डॉक्टरों ने कारीगर को मृत घोषित कर दिया गया। वहीं बुजुर्ग के शव को गुड़ामालानी मोर्चरी में रखवाया गया है। परिजनों की रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।