पूर्व सरपंच की कार को मारी टक्कर, 4 हिरासत में:बाजार करवाया बंद, मांगों को लेकर बैठे धरने पर

बाड़मेर3 महीने पहले
समदड़ी में पूर्व सरपंच के हमले के बाद बाजार किया बंद, लोग बैठे धरने पर। - Dainik Bhaskar
समदड़ी में पूर्व सरपंच के हमले के बाद बाजार किया बंद, लोग बैठे धरने पर।

बाड़मेर जिले के समदड़ी कस्बे में पूर्व सरपंच पर तथाकथित रॉयल्टी कर्मचारियों द्वारा जानलेवा हमले का प्रयास करते हुए कार को क्षतिग्रस्त कर दिया। घटना के बाद लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। मामला बढ़ता देख पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया है। रविवार सुबह बाजार बंद करवाकर गोर का चौक में लोग धरने पर बैठ गए। थाने का लाइन हाजिर करने के साथ विभिन्न मांगों पर अड़े हुए है।

मिली जानकारी के मुताबिक कार से समदड़ी पूर्व सरपंच बाबूलाल परिहार रात को करीब 11-12 बजे घर जा रहा था। इस दौरान दो बोलेरो में सवार होकर आए रॉयल्टी कार्मिकों ने कार का पीछा किया। बोलेरो गाड़ियों का आगे-पीछे किया। समदड़ी कस्बे के मुख्य बाजार में बाबूलाल परिहार के कार नहीं रोकने पर कार को पीछे से टक्कर मार दी। इससे पूर्व सरपंच की कार क्षतिग्रस्त हो गई। सूचना पर समदड़ी पुलिस पहुंची और पीछा करके 4 लोगों को हिरासत में लिया। घटना की सूचना कस्बे के लोगों को मिलने पर लोगों ने रविवार को कस्बे का पूरा बाजार बंद करवा दिया। गौर सर्किल पर धरने पर बैठ गए। ग्रामीणों ने स्थानीय पुलिस व प्रशासन पर आरोप लगाया है कि मिलीभगत के चलते रॉयल्टी कार्मिक आए दिन ऐसी घटनाओं को अंजाम दे रहे है।

शिकायत करने पर किया हमला

पूर्व सरपंच बाबूलाल परिहार के मुताबिक मेरे ट्रेक्टर ड्राइवर ने मुझे फोन किया कि बोलेरो कैंपर में सवार आए बदमाशों ने रुपए व ट्रैक्टर को लूट लिया। तब वहां पर गया तो इन्होंने मेरे उपर गाड़ी चढ़ाने का प्रयास किया। लेकिन मैं वहां से कार लेकर निकल गया और तब इन बदमाशों ने मेरी कार को टक्कर मार दी। मैने कुछ दिन पहले थाने में अवैध खनन व रात को दहशत फैलाने वालों की शिकायत की इस वजह से मेरा उपर हमला किया है।

इन मांगों पर अड़े ग्रामीण

धरने पर बैठे लोगों का कहना है कि समदड़ी थाने का लइन हाजिर किया जाए। वहीं कुछ दिन पहले संदिग्ध युवक की मौत मामले का खुलासा। रॉयल्टी कार्मिकों द्वारा आए दिन ऐसी घटनाओं का अंजाम दिया जा रहा है इसको रोका जाए। इनन मांगो को लेकर स्थानीय लोग अड़े हुए है। धरना स्थल पर पूर्व विधायक कानसिंह कोटड़ी, सिवाना प्रधान मुकुंदसिंह राजपुरोहित, पूर्व पंचायत समिति गणपत मेहता, पूर्व प्रधान लक्ष्मणसिंह, सरपंच संघ अध्यक्ष खेतसिंह भाटी, भाजपा मंडल अध्यक्ष पारसमल प्रजापत, सुरेंद्रसिंह सारण, ठाकुर नटवर करण, पदमाराम सेवाली, सिलोर सरपंच बाबूसिंह राजगुरू स्थानीय लोगों के साथ वार्ता कर रहे है।

बढ़ रही है घटनाएं

गौरतलब है कि लंबे समय से लूनी नदी में रोक के बावजूद समदड़ी क्षेत्र में अवैध बजरी का खनन जोरो पर है। रॉयल्टी कर्मिको एवं बजरी माफियाओं के बीच आए दिन मारपीट की घटनाएं होती रहती है। इसको लेकर पुलिस की ओर से सख्त कार्रवाई नहीं होने के कारण अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही है। लेकिन पुलिस की ओर से किसी भी वारदात को लेकर कोई खुलासा नहीं किया गया है।

फोटो-इनपुट : सुनील दवे