रात को 6 लाख रुपए के गहने चुराए:शातिर के मोबाइल से खुले चोरी के राज, फिर कबूली 25 वारदात

बाड़मेर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लाइट सामान चुराने के मामले में न्यायिक अभिरक्षा (JC) में चले रहे शातिर चोर को प्रोडक्शन वारंट पर किया गिरफ्तार, फिर कबूली चोरी की वारदातें - Dainik Bhaskar
लाइट सामान चुराने के मामले में न्यायिक अभिरक्षा (JC) में चले रहे शातिर चोर को प्रोडक्शन वारंट पर किया गिरफ्तार, फिर कबूली चोरी की वारदातें

बाड़मेर पुलिस बीते एक वीक में दर्जनों अलग-अलग वारदातों का खुलासा किया है। शिव पुलिस ने एक शातिर चोर को पकड़ा था, लेकिन पुलिस पूछताछ में चोरी की वारदात को कबूल नहीं किया। लेकिन पुलिस ने लोकेशन के आधार पर मोबाइल की मदद से जेल में बंद (न्यायिक अभिरक्षा) शातिर चोर को प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार कर लाखों रुपए के सोने-चांद के आभूषण बरामद किए है।

दरअसल, निंबला (शिव) निवासी कल्याणसिंह पुत्र सवाईसिह ने शिव थाने में 22 अप्रैल को रिपोर्ट दी थी । 21 अप्रैल को परिवार के सदस्य शादी में गए हुए थे। रात को घर पर मां व उसकी पत्नी सो रहे थे। रात करीब 2 बजे अलमारी में रखे 10 तोला सोना, 1 किलो चांदी व करीबन 5 हजार रुपए व 2 मोबाइल फोन चुरा कर ले गए। पुलिस ने रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर चोर की तलाश शुरू की।

पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए एएसपी नरपतसिंह व डिप्टी आनंदसिंह के सुपरविजन में थानाधिकारी हंसाराम के नेतृत्व में स्पेशल टीम का गठन किया। टीम के सदस्यों से जांच पड़ताल कर आरोपी वीरमाराम पुत्र राणाराम निवासी कानासर गोलाई शिव को गिरफ्तार किया। उसके कब्जे से सोने-चांदी के आभूषण व 2 मोबाइल बरामद किए। उनकी कीमत 6 लाख रुपए है। एसपी ने बताया कि वारदात का खुलासा करने में कांस्टेबल नींबसिंह की विशेष भूमिका रही।

कुछ दिन पहले ट्रांसफॉर्मर व लाइट सामान में पकड़ा था आरोपी को

पुलिस ने बीते दिनों ट्रांसफॉर्मर से तांबा व लाइट सामान चोरी करने वाली गैंग का खुलासा किया था। उस गैंग में शातिर चोर वीरमाराम पुत्र राणाराम निवासी कानासर गोलाई शिव को भी गिरफ्तार किया था। आरोपी ने पूछताछ में लाइट सामान चोरी के अलावा कोई वारदात का कबूल नहीं की थी। तो पुलिस ने आरोपी से पूछताछ के बाद जेल भेज दिया। लेकिन पुलिस के सामने निंबला में हुई बड़ी वारदात सिरदर्द बनी हुई थी।

मोबाइल साथी को दिया, पुलिस ने लोकेशन ट्रेस की

आरोपी वीरमाराम ने आभूषणों को बेचने के लिए एक-दो लोगों को फोटो मोबाइल के जरिए भेजे थे। पुलिस मोबाइल की लोकेशन से एक-दो लोगों के पास पहुंची। उनसे हुई पूछताछ के बाद पुलिस को पुख्ता साक्ष्य मिले। न्यायिक अभिरक्षा में चल रहे आरोपी वीरमा को पकड़ा तो उसने वारदात को स्वीकार किया।

वीरमाराम शातिर चोर, अब कबूली 25 चोरियां

आरोपी वीरमाराम शातिर चोर है, जो पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद भी वारदातों को स्वीकार नहीं करता है। हालांकि दूसरी बार पकड़े जाने के बाद पुलिस की सख्ती के आगे राज उगल दिए। आरोपी ने 25 चोरी की वारदातों को अंजाम देना स्वीकार किया है। पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी है।

बाड़मेर पुलिस : 10 दिन में 7 बड़ी वारदातों को खुलासा

-शिव पुलिस ने 28 अप्रैल को चाकू की नोक पर लूटी स्कॉर्पियो प्रकरण में खुलासा किया। वाहन बरामद करने में सफलता हासिल कर आरोपी की तलाश में जुटी है। -शिव पुलिस ने 30 अप्रैल को बिजली ट्रांसफॉर्मर व लाइट सामान चुराने की गैंग का खुलासा किया। जिसमें देवराम, हेराजराम व हरूराम को गिरफ्तार किया। जिसमें हेराजराम शिव पुलिस का हिस्ट्रीशीटर है। -शिव पुलिस ने 4 अप्रैल को आरोपी भगाराम को गिरफ्तार किया। आरोपी ने तीन वारदातें स्वीकार की। पुलिस ने चुराया सामन बरामद किया। -समदड़ी थाना पुलिस ने 29 अप्रैल को ट्यूबवैल से केबल चुराने वाली गैंग के पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया। आरोपियों ने दर्जन भर वारदातों को अंजाम देना स्वीकार किया। -नागाणा थाना पुलिस 4 अप्रैल को तांबे की इलेक्ट्रिक केबल से भरा ट्रक कीमत 20 लाख रुपए का हड़पने के प्रकरण का खुलासा किया। मामले में छह आरोपियों को गिरफ्तार कर वाहन व सौ फीसदी बरामदगी की। -बालोतरा पुलिस ने 1 मई को पेट्रोल पंप कर्मचारी की साजिश से झूठी लूट की वारदात का पर्दाफाश किया।