विवाहिता ने 2 बच्चों के साथ किया सुसाइड:अपने तीन बच्चों के साथ टांके में कूदी महिला, डूबने से मौत, 7 साल के बेटे ने टांके में लगा पत्थर पकड़कर बचाई जान

बाड़मेरएक महीने पहले
विवाहिता ने इस टांके में बच्चों के साथ की आत्महत्या।

बाड़मेर जिले के रामसर थाना क्षेत्र के चाडार मदरूप गांव में विवाहिता अपने 3 बच्चों को साथ लेकर टांके में कूद गई। पानी में डूबने से विवाहिता और 2 बच्चे की डूबने से मौत हो गई। महिला के बड़े बेटे ने टांके में लगे पत्थर को पकड़ लिया। जिसके कारण उसकी जान बच गई। पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया। पुलिस आत्महत्या के कारणों का खुलासा करने में जुटी है।

विवाहिता और दो बच्चों के शव।
विवाहिता और दो बच्चों के शव।

दरअसल सोमवार देर शाम को विवाहिता और तीन बच्चे घर में थे। विवाहिता के सास-ससुर खेत में काम रहे थे। जब वो घर आए तो उनको विवाहिता विमला (28) पत्नी भोमाराम और बच्चे संगीता (5), कपिल (20 माह) और मुकेश (7) घर पर नहीं दिखे, तो उन्होंने ढूंढा। इस दौरान टांके के पास जूते देखने पर वहां गए तो मुकेश टांके में लगे पत्थर को पकड़े हुए था। इस पर मुकेश को तुरंत बाहर निकाल लिया। इसके बाद आसपास के लोगों को बुलाकर विवाहिता और दोनों बच्चों के शव को बाहर निकाला गया। विवाहिता का पति जोधपुर में मजदूरी करता है।

रामसर थानाधिकारी विक्रम सांदू ने बताया कि मंगलवार को सूचना मिलने पर घटनास्थल पर पहुंचे। विवाहिता और दो बच्चों के शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस विवाहिता के अपने तीन बच्चों को लेकर टांके में कूदने के पीछे के कारणों का पता लगाने में जुटी है। पुलिस ने ससुराल पक्ष की तरफ से दी रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...