पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कुदरत ने मचाया कोहराम:तेज अंधड़ के साथ ओलावृष्टि से कच्चे मकान व पेड़ गिरे

बायतु/बाड़मेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बायतु. तेज अंधड़ से गिरी कमरे की दीवार व बिखरा घरेलू सामान। - Dainik Bhaskar
बायतु. तेज अंधड़ से गिरी कमरे की दीवार व बिखरा घरेलू सामान।

उपखण्ड क्षेत्र की के दो दर्जन गांवों मे गुरुवार शाम को तेज अंधड़ के साथ बारिश से कई लोगों के कच्चे घरों की छतें गिर गई। तेज आंधी से बिजली के पोल और पेड़ गिर गए। क्षेत्र की खोथों की ढाणी सरपंच हिमथाराम खोथ और अकदड़ा सरपंच प्रतिनिधि हेमंत सियाग, हरीश सैन ने बताया कि गांवों मे गुरुवार शाम को आए तेज तेज अंधड़ और बारिश के साथ ओले गिरे।

खोथों की ढाणी क्षेत्र मे करीबन 15 कच्चे घरों की छतें गिर गई। बिजली के पोल गिरने से गांव मे अंधेरा छा गया। इधर प्रकाश सोनी, घनश्याम चौधरी, दिनेश कुमार ने बताया कि लापुंदड़ा, खट्टू, भीमरलाई हेमजी का तला सहित आस पास के गांवों में तेज अंधड़ और बारिश हुई। भयंकर आंधी से कई पेड़ धराशाही हो गए।

सतीश कुमार भाखर, गणपत लेघा, राधेश्याम शर्मा, राकेश पूनिया बताया कि जोगासर, बायतु भोपजी, भोजासर, नोसर, बायतु चिमनजी, खानजी का तला, कोलू, छीतर का पार, हुड्डो की ढाणी, लूनाड़ा, पूनियों का तला सहित आस पास के दो दर्जन गांवों मे कहीं हल्की बूंदाबांदी और कहीं तेज बारिश के साथ भयंकर अंधड़ ने आमजन को झकझोर कर रख दिया।

इधर लीलाला सरपंच हंसराज गोदारा ने बताया कि लीलाला और बायतु पनजी क्षेत्र मे तेज अंधड़ और बारिश से कई घरों के छत गिर गई। इससे गरीब परिवारों को भारी नुकसान हुआ। ग्रामीणों ने सरकार और प्रशासन से उचित मुआवजा दिलवाकर राहत प्रदान करवाने की मांग की।

खबरें और भी हैं...