पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सीएमएचओ व सीएचसी प्रभारी ने दी जानकारी:राजस्व मंत्री की बायतु अस्पताल में सुविधाओं को बढ़ाने पर चर्चा

बायतु2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान मेडिकल रिलीफ सोसायटी की बैठक मंगलवार को राजस्व मंत्री हरीश चौधरी की अध्यक्षता में हुई, इसमें बायतु सीएससी के विकास एवं मरीजों को बेहतर सुविधाएं दिलवाने संबंधी कई प्रस्तावों को सहमति दी गई। इस दौरान सीएससी प्रभारी जोगेश चौधरी ने सीएससी में आवश्यक भौतिक सुविधाओं को जुटाने के संबन्ध में अवगत करवाया। इस पर राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने ओपीडी के दौरान मरीजों की लंबी कतारें रहती है जिसके लिए मरीजों को परेशानी होती है।

इसको लेकर अतिरिक्त अस्थायी केबिन कक्ष की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। बैठक में चौधरी ने सीएससी के अंदर विद्युत क्षमता बढ़ाने को लेकर 7 केवी से 35 केवी करने व सीएससी के लिए अलग से बिजली ट्रांसफार्मर लगाने के लिए विद्युत विभाग के अधिकारियों को हिदायत दी।

इसी तरह कोविड 19 में टीकाकरण के दौरान 60 साल से अधिक के उम्र के लोगो की संख्या अधिक हो जाती है इसलिए उनके बैठने व पानी की समुचित व्यवस्था के लिए प्रबंधन किया जाए। साथ ही राजस्व मंत्री हरीश चौधरी के प्रयासों से बायतु में बनने वाले 75 बेड के अस्पताल में ट्राेमा सेंटर के विस्तार को लेकर सीएमएचओ बाबूलाल विश्नोई व सीएससी प्रभारी जोगेश चौधरी से प्रगति रिपोर्ट ली। इस दौरान चौधरी ने कहा कि बायतु सीएचसी को मॉडल रूप में विकसित किया जाए, इस मंशा के अनुरूप अधिकारी व कर्मचारी ईमानदारी व पारदर्शिता से कार्य सम्पन्न करवाए। राजस्व मंत्री ने कहा कि चिकित्सालय में विकास कार्य करवाने के लिए दानदाताओं को प्रेरित करें।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए चौधरी ने कहा कि बायतु में आदर्श सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र विकसित करने की योजना से चिन्हित चिकित्सा संस्थान में सभी आवश्यक चिकित्सा सुविधाएं, दवाइयां आदि हर समय उपलब्ध रहे। इस दौरान सीएमएचओ बाबूलाल विश्नोई, ब्लॉक सीएमएचओ शिव राम प्रजापत, बायतु प्रधान सिमरथाराम चौधरी, सीएससी प्रभारी जोगेश चौधरी समेत चिकित्सक व सीएससी के कर्मचारी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें