पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Barmer
  • Revenue Minister Worried About Rising Corona Patients, Said That If Resources Are Increased, The Biggest Challenge Will Be To Increase Human Resources.

राजस्व मंत्री हरीश चौधरी चिंतित:बढ़ते कोरोना मरीज़ों को लेकर राजस्व मंत्री चिंतित, बोले संसाधन तो बढ़ा देंगे, जनता को सजग रहना होगा

बाड़मेर2 महीने पहले
राजस्व मंत्री हरीश चौधरी।

ज़िले में कोरोना की दूसरी लहर ने हेल्थ सिस्टम को हिला कर रख दिया है। राजस्व मंत्री हरीश चौधरी और बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन लगातार ज़िला अस्पताल सहित ग्रामीण स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण करने के साथ मॉनिटरिंग भी कर रहे हैं। राजस्व मंत्री हरीश का कहना है कि बाड़मेर, राजस्थान सहित देश मे डॉक्टरों और नर्सिग स्टाफ की संख्या सीमित है। हमारे लिए सबसे बड़ी चुनौती यह है कि इससे ज्यादा मरीज़ो की तादाद बढ़ेगी तो यह मानव संसाधन कहा से लेकर आएगे। एक दिन में मानव संसाधन नही बना पाएंगे।

राजस्व मंत्री हरीश चौधरी गुरुवार को चौहटन और बाड़मेर दौरे पर थे। ज़िला मुख्यालय पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि ज़िले में जो संक्रमण की तादाद के साथ मृत्यु दर बढ़ रही है वो हम लोगों के लिए चिंता का विषय हैं। अगर इसी तादाद में अगर संक्रमित मरीज बढेंगे तो हमारे लिए चिंताजनक स्थिति बन सकती है।

हमारे पास सीमित मानव संसाधन है अगर इस लड़ाई में अगर किसी का महत्वपूर्ण योगदान है तो वो डॉक्टर और नर्सिंगकर्मियों का है। उसकी संख्या पूरे देश मे सीमित है उसी अनुपात में राजस्थान में भी और बाड़मेर में भी सीमित है।

यह डॉक्टर और नर्सिंगकर्मी पिछले 15 दिनों से लगातार काम कर रहे है। कोई डॉक्टर और नर्सिंग कर्मी रोजाना 18-18 घंटे काम कर रहे है। सबसे बड़ी सबसे बड़ी चुनौती यह है कि इससे ज्यादा मरीज़ों की तादाद बढ़ेगी तो यह मानव संसाधन कहा से लेकर आएगे। एक दिन में मानव संसाधन नही बना पाएंगे। राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने सभी से हाथ जोड़कर निवेदन किया है कि जरूरी काम होने पर ही घरों से बाहर निकलें। दूसरा किसी को कोविड के लक्षण दिखें तो तुरन्त डॉक्टर को दिखाएं।

गवर (गणगौर) के उजमणा और शादियों से बढ़े केस

पिछले दिनों गवर के उजमणो और शादियो से कोरोना संक्रमित लोगों की तादाद बढ़ी है। आने वाले दिनों में अक्षय तृतीया में राजस्थान में बुधवार तक 40,000 शादियां रजिस्टर्ड हुईं। अगर राजस्थान में इतनी बड़ी संख्या में शादियां होंगी तो प्रदेश को संक्रमण से कैसे बचाया जा सकता है। राजस्थान में आगामी दिनों ने दो बड़े एक ईद की नमाज और आखातीज पर शादियां। मंत्री ने कहा कि हो सके तो शादियों को स्थगित करें अगर नही ही सकती हैं तो प्रीतिभोज जैसा कार्यक्रम खुद,परिवार और समाज के लिए यह स्थगित करें। संक्रमण रोकने में यह सबसे बड़ा योगदान होगा।