निंबला गांव में शिकारियों ने किया चिंकारा का शिकार:ग्रामीणों को देखकर शिकारी भागे, वन विभाग ने मेडिकल बोर्ड से करवाया पोस्टमार्टम

बाड़मेरएक महीने पहले
मृत चिंकारा।

बाड़मेर के शिव नींबला गांव में सोमवार रात को शिकारियों द्वारा चिंकारा का शिकार करने का मामला सामने आया है। वन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे तब तक चिंकारा ने दम तोड़ दिया था। मेडिकल बोर्ड द्वारा चिंकारा का पोस्टमार्टम करवाया गया है।

पोस्टमार्टम से पहले घायल चिंकारा।
पोस्टमार्टम से पहले घायल चिंकारा।

गांव वाले पहुंचे तो भागे शिकारी

स्थानीय लोगों के मुताबिक सोमवार रात को करीब 8:30 बजे नींबला में चिंकारे का शिकार की कोशिश कर हल्ला मचने पर शिकारी भाग गए। लोग वहां पहुंच गए तो वे चिंकारा को वहीं छोड़ चले गए। चिंकारा घायल था। स्थानीय निवासी धर्माराम सियोल ने घटना कि सूचना श्री जंभेश्वर पर्यावरण एवं जीव रक्षा प्रदेश संस्था के कार्यकर्ता मोहनलाल कड़वासरा को दी। इस पर कड़वासरा ने वन विभाग को सूचना दी। वन विभाग के वनपाल व गार्ड जब तक पहुंचते तब तक चिंकारा ने दम तोड़ दिया।

क्षेत्रीय वन अधिकारी माखनलाल शर्मा ने बताया कि रात को करीब 9 बजे सूचना मिली थी कि निंबला सरहद हाईवे से करीब 10-15 दूर चिंकारा घायलावस्था में पड़ा है। इस पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। तब तक चिंकारा ने दम तोड़ दिया था। चिंकारा के पीछे की तरफ घाव है। चिंकारा का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया है। रिपोर्ट आने के बाद पता चल पाएगा कि गांव बंदूक की गोली का है या नहीं। रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...