जिला परिषद की बैठक:शिव विधायक ने कहा पक्की सड़कों पर डामर ही नहीं, इससे अच्छी तो ग्रेवल सड़कें, अफसर निरुत्तर

बाड़मेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला परिषद की बैठक में शिव विधायक अमीन खां व जिपस. रूपसिंह राठौड़ बहस करते हुए। - Dainik Bhaskar
जिला परिषद की बैठक में शिव विधायक अमीन खां व जिपस. रूपसिंह राठौड़ बहस करते हुए।
  • जिला परिषद की बैठक में प्रधानमंत्री सड़क योजना के प्रस्तावों का अनुमोदन

जिला परिषद की बैठक नौ माह बाद बुधवार को आयोजित बैठक में जनप्रतिनिधियों ने सड़क, पानी, बिजली व चिकित्सा के मुद्दों को लेकर अफसरों को खरी-खरी सुनाई। शिव विधायक अमीन खां ने बॉर्डर के गांवों में डामर सड़कों की गुणवत्ता पर सवाल उठाते हुए कहा कि सड़कों पर डामर तो डाला ही नहीं है। नई सड़कें भी उखड़ गई है। इससे तो अच्छी मनरेगा की ग्रेवल सड़कें है।

विधायक ने भारत माला प्रोजेक्ट के तहत सुंदरा से म्याजलार तक अधूरे हाइवे का निर्माण करवाने की बात कही। सिवाना में धारणा सड़क मार्ग के टेंडर में देरी को लेकर विधायक हमीरसिंह भायल व जिला परिषद सदस्य गरिमा राजपुरोहित के बीच बहस हो गई। दोनों ने एक दूसरे पर आरोप लगाए। इस बीच समझाइश पर मामला शांत करवाया। वहीं बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने पानी का मुद्दा उठाते हुए कहा कि अवैध नल कनेक्शनों के कारण अंतिम छोर तक पानी नहीं पहुंच रहा है।

जलदाय विभाग अभियान शुरू कर अवैध नल कनेक्शन हटाए ताकि लोगों को पीने का पानी नसीब हो सके। जिला परिषद सदस्य रूपसिंह,गफूर अहमद, नरपतराज मूढ़ समेत कई सदस्यों ने विभिन्न मुद्दे उठाए। इस दौरान प्रधानमंत्री सड़क योजना के प्रस्तावों का अनुमोदन किया गया। बुधवार को जिला परिषद सभागार में जिला प्रमुख महेंद्र चौधरी की अध्यक्षता में बैठक शुरू जुई।

गुड़ामालानी विधायक हेमाराम चौधरी ने मनरेगा योजना में निविदा प्रक्रिया में तकनीकी रूप से सक्षम संवेदकों एवं फर्मों को ही योग्यता निर्धारण में शामिल करने को कहा। साथ ही संवेदक की पात्रता निर्धारित करने की बात कही। उन्होंनें कहा कि पंचायत स्तर पर सक्षम फर्म निविदा प्रक्रिया में शामिल की जाए। इस दौरान शिव विधायक अमीन खान ने भारत माला सड़क निर्माण प्रोजेक्ट में डीएनपी क्षेत्र में अधूरे कार्य पूर्ण करने एवं गागरिया में पुल का कार्य शुरू करने की बात कही।

चौहटन विधायक पदमाराम मेघवाल ने कहा कि जिला परिषद के सदन के समय का समुचित उपयोग किया जाए एवं कम से कम समय में अधिक से अधिक जनहित के मुद्दे उठाया जाए ताकि संबंधित विभाग के अधिकारियों के संज्ञान में लाया जाकर उनका हल निकाला जा सके। सिवाना विधायक हमीर सिंह भायल ने कहा कि महात्मा गांधी नरेगा योजना के कार्यों की गुणवत्ता के लिए उनकी उचित तरीके से मॉनिटरिंग की जाए। उन्होंने सामग्री मद में बकाया राशि जारी करने एवं नए कार्यों को शीघ्र स्वीकृत करने की मांग रखी।

सिवाना क्षेत्र में धारण सड़क निर्माण के टेंडर के मुद्दे को लेकर जिला परिषद सदस्य गरिमा राजपुरोहित ने विधायक भायल पर आरोप लगाया कि आपकी वजह से सड़क का काम शुरू नहीं हो रहा है। भायल ने कहा कि सड़क निर्माण को लेकर सिवाना एसडीएम कोर्ट से स्टे जारी हुआ था। एक साल बाद स्टे हट गया है। अब जल्दी काम शुरू हो जाएगा।

इस दौरान जिला कलेक्टर लोक बन्धु एवं विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे। बैठक की शुरुआत में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मोहन दान रतनू ने गत बैठक की कार्यवाही का विवरण एवं एक्शन टेकन रिपोर्ट सदन के पटल पर रखी। बैठक में जिला परिषद के सदस्यों ने अपने-अपने क्षेत्र की विभिन्न समस्याएं रखी।

खबरें और भी हैं...