बैठक कर समीक्षा:92 पंचायतों में प्रशासन गांवों के संग शिविरों में 32071 लोगों की समस्याओं का समाधान

बाड़मेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला कलेक्टर लोक बंधु ने गुरुवार शाम प्रशासन गांवों/शहरों के संग अभियान से जुडे़ अधिकारियों की बैठक लेकर अब तक की प्रगति की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने अभियान से जुड़े विभागों के जिला स्तरीय अधिकारियों को स्वयं शिविरों में जाकर उनके विभाग से जुड़े विभिन्न कार्यों का मौके पर ही निस्तारण करवाने के निर्देश दिए।

इस अवसर पर जिला कलेक्टर ने राजस्व विभाग के अतिरिक्त अन्य विभागों को कार्यों के निस्तारण में गति लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप विभिन्न विभागों से जुड़े कार्यों का मौके पर ही निस्तारण कर लोगों को राहत पहुंचाई जाए, तब ही शिविरों की महत्ता सार्थक होगी।

जिला कलेक्टर लोक बंधु ने बताया कि 2 अक्टूबर से शुरू हुए प्रशासन गांवों के संग अभियान के दौरान 14 अक्टूबर तक जिले की समस्त पंचायत समितियों में 92 ग्राम पंचायतों में शिविरों का आयोजन किया जाकर विभिन्न राजस्व प्रकरणों का मौके पर ही निस्तारण किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि इन शिविरों में नामांतरकरण के 6419 प्रकरण, राजस्व अभिलेख/खातों के शुद्धिकरण के 6137 प्रकरण, आपसी सहमति से 735 खातों का विभाजन, 108 रास्ते के प्रकरण, गैर खातेदारी से खातेदारी के 4 प्रकरण, 22 अतिक्रमणों के प्रकरणों पर कार्यवाही, 7 नये राजस्व गांवों के प्रस्ताव, सीमाज्ञान/पत्थरगढ़ी के 200 प्रकरण, आबादी भूमि विस्तार आवंटन/आरक्षण के 22 प्रस्ताव, सार्वजनिक/राजकीय प्रयोजनार्थ भूमि आवंटन/आरक्षण के 100 प्रस्ताव, 6925 राजस्व रेकार्ड की प्रतिलिपियों का वितरण, सहमति से पैतृक भूमि के 119 लम्बित वादों का निस्तारण तथा जाति, मूल निवास, हैसियत प्रमाण पत्र इत्यादि के 6138 प्रकरणों का निस्तारण किया गया। उन्होंने बताया कि उक्त आयोजित शिविरों में 32071 लोगों ने भाग लेकर अपनी विभिन्न समस्याओं का मौके पर ही निराकरण करवाया।

खबरें और भी हैं...