पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मरीजों को सुविधा:जिला अस्पताल में बेड क्षमता 500 से 650 हाेगी 25 बेड का इमरजेंसी वार्ड भी जल्दी हाेगा तैयार

बाड़मेर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • भास्कर विशेष - सितंबर से भवन का निर्माण शुरू, ग्राउंड फ्लाेर पर बनेगा इमरजेंसी वार्ड

जिला अस्पताल में मरीजों के लिए जल्द ही 650 बेड की सुविधा हाेगी। पहले अस्पताल के मेडिकल काॅलेज में क्रमोन्नत हाेने के साथ 500 बेड की स्वीकृति जारी की गई थी, इसे सुविधाओं के विस्तार के तहत और बढ़ाया गया है। फिलहाल अस्पताल में मरीजों के लिए 300 बेड की सुविधा है। अस्पताल में 25 बेड का नया इमरजेंसी वार्ड भी जल्द ही तैयार हाेगा।

पुरानी बिल्डिंग में बगीचे तथा स्टाेर रूम के एरिया में पांच मंजिला इमारत बनाई जाएगी। इसके ग्राउंड फ्लाेर पर 25 बेड की इमरजेंसी हाेगी। बिल्डिंग की ऊपरी चार मंजिला इमारत बनेगी। मेडिकल काॅलेज की ओर से नक्शा तैयार किया गया है। इसी माह में नक्शे की स्वीकृति के बाद टेंडर जारी किए जाएंगे। दाे से तीन महीने में इमरजेंसी निर्माण का काम शुरू हाेगा। वहीं ब्लड बैंक का विस्तार भी इसी दाैरान करवाया जाएगा।

इधर न्यू टीचिंग बिल्डिंग काे भी छह मंजिला बनाया जाएगा। फिलहाल लेबर रूम में प्रतिदिन औसतन 30 प्रसूतियां करवाई जा रही है। प्रसूताओं की बढ़ती तादाद काे देखते हुए इसकी क्षमता प्रतिदिन औसतन 50 प्रसूति की हाेगी। डीएमएफटी की ओर से 10 कराेड़ का बजट जारी किया गया है। लेबर रूम के लिए 6 कराेड़ का कंस्ट्रक्शन कार्य तथा 4 कराेड़ के उपकरण खरीदे जाएंगे।

मेडिकल एज्यूकेशन की ओर से मेडिकल काॅलेज के लिए जिला अस्पताल में बेड की क्षमता 500 से बढ़ाकर 650 बेड की गई है। 25 बेड के नए इमरजेंसी वार्ड के लिए भी नक्शा तैयार किया गया है। इसी महीने में नक्शे की स्वीकृति के बाद टेंडर जारी किए जाएंगे। दाे से तीन महीने में पांच मंजिला इमारत का काम शुरू हाेगा। ग्राउंड फ्लाेर में 25 बेड की इमरजेंसी हाेगी तथा शेष बिल्डिंग में वार्ड बनाए जाएंगे। इसी के साथ ब्लड बैक का भी विस्तार करवाया जाएगा।
-डाॅ. आर.के. आसेरी, प्राचार्य, मेडिकल काॅलेज।

नवजात के लिए 12 बेड का बनेगा एसएनसीयू वार्ड

एमसीएच विंग में नवजात शिशुओं के लिए 12 बेड का एसएनसीयू भी जल्द ही बनने जा रहा है। इसकी भी स्वीकृति मेडिकल एज्यूकेशन की ओर से जारी की गई है। फिलहाल विंग में 10 बेड के एनआईसीयू का निमार्ण कार्य जारी है। वहीं पुरानी बिल्डिंग में 10-10 बेड के दाे आईसीयू वार्ड के निर्माण कार्य करवाए जा रहे हैं। जाे जल्द ही पूरे हाेंगे।

खबरें और भी हैं...