पुलिस की कार्रवाई:सरपंच के पति की हत्या के मामले में एक साल से फरार तस्कर गिरफ्तार

बाड़मेर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
झुंझुनूं पुलिस ने शनिवार देर शाम दो शराब तस्करों को गिरफ्तार किया। - Dainik Bhaskar
झुंझुनूं पुलिस ने शनिवार देर शाम दो शराब तस्करों को गिरफ्तार किया।

झुंझुनूं पुलिस ने शनिवार देर शाम दो शराब तस्करों को गिरफ्तार किया। एक घनश्याम लेघा हत्या और हत्या के प्रयास के मामलों में वांछित आरोपी निकला। बाड़मेर के आरजीटी थाने की पुलिस उसे अगस्त 2020 से हत्या के एक चर्चित मामले में तलाश रही थी। बाड़मेर के अणखिया की सरपंच झीमादेवी के पति और हिस्ट्रीशीटर रेखाराम की हत्या के मामले में घनश्याम आरोपी था।

सरपंच पति की हत्या के मामले में खूब विरोध प्रदर्शन हुए थे। आरोपी के खिलाफ जोधपुर जिले के कुड़ी भगतासनी थाने में जून 2020 में ही जूस की दुकान चलाने वाले महेंद्र व उसके दो भाइयों पर जानलेवा हमला करने व गल्ले से रुपए ले जाने का मामला भी दर्ज है।

डीएसटी टीम और चिड़ावा पुलिस ने हरियाणा से तीन लाख रुपए की अवैध शराब गुजरात ले जाते हुए घनश्याम और उसके साथी पचपदरा बाड़मेर के बालाराम को पिलानी बाइपास पर नाकाबंदी की दौरान पकड़कर स्टेट कंट्रोल रूम व संबंधित जिला पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस ने शराब तस्करी के मामले में दोनों आरोपियों को मजिस्ट्रेट खेतड़ी के पास पेश किया। दोनों आरोपियों काे दो दिन का रिमांड दिया है।

ननिहाल में फरारी काटने के दौरान शराब तस्करी से जुड़ा घनश्याम लेघा
बाड़मेर व जोधपुर पुलिस का वांछित आरोपी घनश्याम लेघा ने सरपंच पति की हत्या का मामला दर्ज होने के बाद अपने ननिहाल बिलाड़ा में कुछ समय फरारी काटी। इस दौरान वह इसी इलाके के शराब तस्कर के साथ मिलकर अवैध कारोबार करने लगा। उसने बताया कि फरारी के दौरान वह गुजरात के राजकोट, हरियाणा के झज्जर, चरखी दादरी व रोहतक में भी रहा। उसने दस बार हरियाणा से शराब की खेप गुजरात पहुंचाई। वह शराब लाते-ले जाते वक्त सात-आठ बार जिले से गुजरा।

खबरें और भी हैं...