केन्द्रीय मंत्री ने डॉक्टर को फटकारा:ग्रामीणों की शिकायत पर डॉक्टरों पर भड़के कैलाश चौधरी, बोले- अस्पताल में आदमी मर रहे हैं और आप इलाज के लिए घर पर बुलाते हो; कुछ तो ख्याल करो

बाड़मेर6 महीने पहले
सिणधरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का दौरा करते केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी।

केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी बुधवार को अपने संसदीय क्षेत्र के दौरे पर रहे। सुबह से देर शाम तक पांच विधानसभा क्षेत्रों का हाल जाना। उन्होंने विधायक हमीर सिंह के साथ मुख्य सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कोविड मरीजों से मुलाकात की और व्यवस्थाओं जायजा लिया। इस दौरान उन्हें डॉक्टरों की शिकायतें मिलीं। कार्यकर्ताओं और ग्रामीणों ने कहा कि सिणधरी मुख्य सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के ओपीडी के समय में यहां के डॉक्टर अपने आवास पर मरीज़ों को देखते हैं। इसके बदले बाकायदा पैसे भी लेते हैं।

केंद्रीय मंत्री ने बैठक में डॉक्टरों से कहा कि इस वक्त लोगों की सेवा करने का समय है। वे रवाना होने से पहले डॉक्टरों के क्वार्टर गये। वहां डॉक्टरों को फटकार लगाते हुए कहा इस महामारी में हर कोई मदद करने में आगे आ रहा है और तुम लोग ग्रामीणों को लूट रहे हो। यह ठीक नही है। यह बंद करो। यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। डॉक्टरों से बात करने पर उनका कहना था कि ओपीडी समय में घरों में मरीज़ों को नहीं देखते हैं।

आड़े हाथ लिया

केंद्रीय मंत्री ने डॉक्टरों से कहा- अस्पताल में आदमी मर रहे हैं और आपलोग इलाज के लिए घर पर बुलाते हो। कुछ तो ख्याल करो। आप लोगों को भगवान माना जाता है, पर पता नहीं आपलोग क्या हो गए हो। उन्होंने साफ कहा कि डॉक्टरों ने अपने आवासों पर मरीजों के लिए बेड लगा रखे हैं। ओपीडी के टाइम पर घर पर डॉक्टर सोते रहते हैं। यहां मरीज भटकते रहते हैं।

स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण

बीसीएमओ डॉ. उमेदाराम ने कहा कि ओपीडी समय के बाद क्वार्टर पर देखते हैं। ओपीडी समय के बाद मरीज आते हैं तो उसको देखना भी पड़ता है। कैलाश चौधरी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के वार्डों का निरीक्षण किया। बैठक भी ली उसमें पूरी जानकारी भी दी। वायरल वीडियो बुधवार शाम 7 बजे का है। केंद्रीय मंत्री कह रहे थे कि आप क्वार्टर में मरीज़ो को नहीं देखोगे।

खबरें और भी हैं...