पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Barmer
  • Vedanta Group Germany Is Getting Ready Temporary Kovid Hospital, Kovid Patients Will Be Shifted, OPD Will Start In District Hospital

रेगिस्तान में 100 बेड का AC कोरोना अस्पताल:6 करोड़ की लागत से 20-20 बेड के 4 वार्ड बनाए गए; ICU की भी सुविधा; 15 डॉक्टर्स और 30 नर्सिंगकर्मी होंगे तैनात

बाड़मेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाड़मेर मे तैयार हो रहा अस्पताल। - Dainik Bhaskar
बाड़मेर मे तैयार हो रहा अस्पताल।

कोरोना की दूसरी लहर कुछ हद तक थम चुकी है। पिछले कुछ दिनों से संक्रमित मरीज संख्या भी 100 के आसपास पहुंच चुकी हैं। अस्पतालों में बेड खाली होने लग गए हैं। यहां हाई स्कूल मैदान में केयर्न वेदांता कंपनी द्वारा 100 बेड का अत्याधुनिक, वातानुकूलित अस्थाई अस्पताल तैयार करवाया जा रहा है। जो आने वाले तीन-चार दिन तैयार हो जाएगा। आने वाले वक्त में कोविड मरीजों को इसमें शिफ्ट किया जाएगा। इस अस्पताल में जर्मन तकनीकी से ग्लोबल लेवल व्यवस्था की गई है। जिसमें वो सभी सुविधाएं रहेंगी, जो किसी विश्वस्तरीय फील्ड अस्पताल में रहती हैं। 100 बेड के वातानुकूलित अस्पताल को बनाने में करीब 6 करोड़ की लागत आ रही हैं।

सीएसआर हेड हरमित सेहरा ने बताया कि यह 100 बेड का यह हॉस्पीटल बहुत ही यूनीक बन रहा हैं। लगातार बढ़ती गर्मी के कारण पूरा अस्पताल वातानुकूलित रहेगा। अस्पताल के सभी बेड पर ऑक्सीजन रहेगी। यह अस्थाई अस्पताल आने वाले 3-4 दिनों में बनकर तैयार हो जाएगा। 80-90 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है। इसे बनाने में स्थानीय प्रशासन, नगर परिषद‌्, डिस्कॉम व जलदाय विभाग का भी सहयोग मिल रहा हैं।

इस अस्पताल के तैयार होने के बाद जिला अस्पताल को पूर्व की तरह कोविड मुक्त किए जाने की तैयारी है। इसको लेकर शुक्रवार देर शाम को कलेक्टर लोकबंधु ने स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ वेदांता ग्रुप अस्पताल का निरीक्षण किया। अस्पताल का लोकार्पण मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से करवाए जाने के लिए समय मांगा गया हैं।

वेदांता ग्रुप द्वारा बाड़मेर हाई स्कूल मैदान में तैयार करवाया जा रहा है अत्याधुनिक अस्पताल
वेदांता ग्रुप द्वारा बाड़मेर हाई स्कूल मैदान में तैयार करवाया जा रहा है अत्याधुनिक अस्पताल

यह होगी सुविधा
केयर्न वेदांता द्वारा बनाए जा रहे इस अस्थाई कोविड अस्पताल में 100 बेड होगें। अस्पताल 7350 वर्ग मीटर के डोम में बनकर तैयार हो रहा हैं। अस्पताल में 20-20 बेड के 4 वार्ड, 10 आईसीयू, 10 बाइपेप आईसीयू बेड होंगे। इसमें जीवन रक्षक सभी सुविधाएं होगी।

15 डॉक्टर व 30 नर्सिगकर्मी लगेंगे
अस्पताल को शुरू करने के लिए डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ लगाए जाने के लिए जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने तैयारी कर ली है। करीब 15 डॉक्टर और 30 से ज्यादा नर्सिंगकर्मियों को लगाया जाएगा। हालांकि शुरूआत में मरीजों के अनुसार ही डॉक्टर व नर्सिंग स्टाफ लगेंगे।

कोविड मरीजों किया जाएगा शिफ्ट
कोविड अस्थाई अस्पताल शुरू होने पर जिला अस्पताल से कोविड मरीजों को शिफ्ट कर दिया जाएगा। जिला अस्पताल में पूर्व की भांति फिर से ओपीडी शुरू होगी। इसको लेकर प्रशासन की ओर से तैयारियां की जा रही है।

ऐसी है जर्मन तकनीकी

डोम को बनाने के लिए मैटीरियल और तरीका ऐसा इस्तेमाल किया गया है, जिससे वो सभी मौसम में सुरक्षित रहेगा। गर्मी को कम करने के लिए इसमें जर्मन मैटीरियल काम में लिया गया है। साथ एयर कंडीशनिंग इस प्रकार की है जो भीतरी हवा के संक्रमण को साफ भी करे। एयर प्यूरीफायर भी साथ में लगाए गए हैं।

आमजन को मिलेगा फायदा

थार क्षेत्र के आमजन के लिए, सरकार द्वारा प्रबंधित यह अस्पताल एक सिंगल पॉइंट केअर सेंटर का काम करेगा। जिससे बाड़मेर जिले के मरीजों को त्वरित राहत मिलेगी।

खबरें और भी हैं...