हिरण शिकार की आशंका:सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में बंदूक दिख रही, वन विभाग ने माैके पर खून से सनी मिट्‌टी के सेंपल लिए, जांच के बाद होगी कार्रवाई

बाड़मेर7 महीने पहले
वायरल वीडियो में दो लोग और हाथ में बंदूक व कुल्हाड़ी दिखाई दे रही है।

बाड़मेर जिले के गिड़ा तहसील की खारडा भरतसिंह ग्राम पंचायत सरहद में एक हिरण के शिकार करने का वीडियों सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में शिकारियों द्वारा बूंदक की गोली से एक चिंकारा हिरण का शिकार करने का बताया जा रहा है।

वीडियो वायरल होने के बाद वनजीव प्रेमियों ने बाड़मेर के वन विभाग के अधिकारियों और बायतू रेंजर मखनलाल शर्मा को इसकी जानकारी दी। इस पर वन विभाग की टीम और पुलिस जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे। यहां खून से सनी मिट्‌टी बरामद उन्हें मिली। इसके सेंपल भी पुलिस ने कलेक्ट कर लिए हैं। इसको एफएसएल जांच के लिए सोमवार को जोधपुर भेजा जाएगा। वीडियो में जो लोग दिख रहे हैं, उनकी पहचान कर उनके घर में दबिश भी दी गई, लेकिन घर पर न ये लोग मिले और न ही वीडियो में दिख रहे बंदूक, मृत हरिण के अवशेष वगैरह।

10 जून का वीडियो

जानकारों के अनुसार यह वीडियो 10 जून का बताया जा रहा है। गुरुवार दोपहर करीब 2 बजे 3 शिकारियों की ओर से बंदूक की गोली से एक चिंकारा हिरण का शिकार किया जाना बताया जा रहा है। जब यह किया जा रहा था तो एक वन्यजीव प्रेमी जुंझारसिंह ने यह वीडियो बना लिया। इसमें दो लोगों के हाथ मे बंदूक और कुल्हाड़ी दिखाई दे रही है। हालांकि वीडियो मे शिकार किया गया चिंकारा दिखाई नहीं दे रहा है। वीडियो मे किशोर द्वारा बताया जा रहा है कि तीन लोग हिरण का शिकार कर रहे थे। इनमें से एक युवक मृत जानवर को लेकर भाग गया।

किशोर ने जीव रक्षा संस्था से सौंपा वीडियो

बताया जा रहा है कि वीडियो बनाने वाला किशोर इस अपराध पर कार्रवाई करने की प्रक्रिया से अनभिज्ञ था। शुक्रवार सुबह जंभेश्वर पर्यावरण एवं जीव रक्षा प्रदेश संस्था राजस्थान शाखा जालौर के जिला मंत्री मोहनराम कड़वासरा से संपर्क किया और उन्हें सारी घटना बताई। उनके द्वारा बनाया गया वीडियो भी भेजा। इस पर मोहनराम ने बाड़मेर वन मंडल के अधिकारियों से बात की तथा बायतु के रेंजर मखनलाल शर्मा को जानकारी दी। इसके बाद पुलिस व वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची।

जांच में हिरण का शिकार पाया गया तो मामला दर्ज होगा

गिडा थानाधिकारी जयराम चौधरी ने बताया कि खारडा भारतसिंह गांव का एक वीडियो वायरल हुआ था इस पर वन विभाग टीम ने पुलिस जाब्ते के साथ दबिश देकर खून से सनी मिट्टी बरामद की है। एफएसएल रिपोर्ट मे यदि हरिण का शिकार पाया जाता है, तो प्रकरण दर्ज करके कार्रवाई की जाएगी।

बायतु क्षेत्रीय वन अधिकारी मखनलाल शर्मा ने बताया कि हमने गिड़ा पुलिस के साथ दबिश दी है पूरा मामले का पता किया है। 3 दिन पुराना वीडियो है। साक्ष्य तो कुछ हैं नहीं। वीडियो ऑनलाइन डाला है। यदि वह इसकी सूचना उसी दिन हमें में देता तो उसी दिन कार्रवाई होती। जिन लोगों पर आरोप लगे हैं, वे घर पर मिले नहीं, जोधपुर जाना बताया है। हमने साक्ष्य के तौर पर खून से सनी मिट्टी को उठाया है। जो 3 दिन पुरानी होने के कारण सूखी हुई है। इसको एफएसएल के लिए जोधपुर भेजा जाएगा। खून यदि वन्य जीव का पाया गया तो त्वरित कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...