भास्कर के खबर हुआ असर पीएचईडी की कार्रवाई:जलदाय विभाग टीम ने 6 घंटे की कार्रवाई में काटा सिर्फ 1 कनेक्शन, 5 टैंकराें सेे पानी के सैंपल लिए

बाड़मेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एक्सईएन ने कहा - अवैध कनेक्शनों के खिलाफ लगातार चलेगी कार्रवाई - Dainik Bhaskar
एक्सईएन ने कहा - अवैध कनेक्शनों के खिलाफ लगातार चलेगी कार्रवाई

पीएचईडी की कार्यशैली कितनी औपचारिक है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि भास्कर स्टिंग में 10 ठिकानों से अवैध तरीके से टैंकरों से नहरी पानी के चाेरी हाेनी की खबर प्रकाशित हाेने के बाद भी टीम काे शिव नगर इलाके की छानबीन के बाद महज एक एक इंची का अवैध कनेक्शन ही मिला।

भास्कर ने गूगल मैप के जरिए ठिकाने दर्शाने के बाद भी टीम काेई बड़ी कार्रवाई नहीं कर सकी। पीएचईडी की टीम रविवार दोपहर 12 बजे से शाम 6 बजे तक शिव नगर इलाके में माैजूद रही और अवैध कनेक्शन नहीं मिलने पर इलाके में आने वाले पांच टैंकराें के पानी सैंपल लेकर लाैटी। सैंपलाें काे विभागीय लैब में भेजा गया है। गौरतलब है कि भास्कर में खबर प्रकाशित हाेने के बाद एसई भरतसिंह चाैधरी व नगरखंड एक्सईएन सतवीरसिंह यादव के निर्देशन में नगरखंड कार्यालय के दाे जेईएन, एक इलाके के फीटर, एक की-मैन व एक ठेका कार्मिक सहित पांच सदस्यीय टीम गठित की गई।

विभागीय टीम ने शिव नगर इलाके में दाेपहर 12 बजे से शाम छह बजे तक इलाके में अवैध कनेक्शनों की छानबीन की। टीम काे महज एक ईंटाें की फैक्ट्री में ही एक इंची अवैध कनेक्शन मिला। कनेक्शन दमाराम माली के नाम से लिया गया था। कागजाें में कनेक्शन आधे इंची का लिया गया है और माैके पर एक इंची मिलने पर उसे विच्छेद कर कार्रवाई की गई। इसके बाद शाम तक टीम की ओर से औपचारिकता करते हुए इलाके में आने वाले पांच टैंकराें के पानी सैंपल लिए गए और लाैट आई।

जल माफियाओं के अवैध कनेक्शन की वजह से उपभोक्ताओं के घरों तक नहीं पहुंच रहा है पानी
हजारों उपभोक्ताओं के हक का पानी बीच में ही जल माफिया गायब कर बड़ा काराेबार चला रहा है। ऐसे में जलदाय विभाग शहरी लाेगाें काे पर्याप्त जलापूर्ति नहीं कर पा रहा है। जल माफिया उपभोक्ता तक पर्याप्त पानी पहुंचने से पहले ही लंबे समय से लाइनाें से सीधे पानी चाेरी कर रहे है। सदर थाने से रीकाे एरिया तक इनके दस ठिकानों से पानी चाेरी किया जा रहा है।

शिव नगर जीएलआर से करीब पांच साै मीटर तक के चाराें ओर के क्षेत्र में जाल बिछा हुआ है। इनमें कुछ ठिकानें ईंटाें की फैक्ट्री के बाड़े व बाकी घराें में बने हुए है। विष्णु काॅलाेनी जीएलआर से करीब 300 मीटर दूर, सरस दूध डेयरी के पीछे बने पक्के मकान, शिव नगर स्थित जीएलआर से 300 मीटर दूरी पर स्थित ईंटाें की फैक्ट्री, शिव नगर से देशांतरियाें के वास जाने वाली सड़क से करीब 200 मीटर दूरी बाड़े के पास की गली, शिव नगर जीएलआर से करीब 400 मीटर की दूरी पर बने दाे मंजिला मकान में पानी चाेरी हाे रही है।

शहर के इन इलाकाें में नहीं पहुंच रहा अंतिम छाेर तक पानी
तिलक नगर, कलाकार काॅलाेनी, सदाराम मंदिर, गांधीनगर, शास्त्रीनगर,जटियाें का वास, जाटावास, विष्णु काॅलाेनी, रामनगर, राजीव नगर, राेहिड़ा पाड़ा, नागाड़ाराय काॅलाेनी, शहर के हनुमान मंदिर के पीछे की गली, बेरियाें के वास, सरदारपुर में वन विभाग राेड के आस-पास के क्षेत्राें में पीएचईडी पानी नहीं पहुंचा पा रही है।

  • टीम गठित कर कार्रवाई की गई। शिव नगर इलाके में एक अवैध कनेक्शन पाया गया। टीम ने कनेक्शन काट दिया व विभाग की ओर से कानूनी कार्रवाई की जाएगी। जल माफिया के खिलाफ टीमें गठित कर कार्रवाई लगातार जारी रखी जाएगी। - सतवीरसिंह यादव, एक्सईएन नगरखंड बाड़मेर।
खबरें और भी हैं...