पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राजस्व मंत्री का गैर जिम्मेदाराना बयान:हरीश चौधरी ने कहा- सरकार के भरोसे जीवन नहीं बचा सकते, घरों में रहकर खुद की मदद करनी होगी

बाड़मेरएक महीने पहले
राजस्व मंत्री हरीश चौधरी कोरोना पर बार-बार प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों एवं डॉक्टरों के साथ मीटिंग कर हालातों का फीडबैक ले रहे हैं।

राजस्थान में कोरोना महामारी संकट के बीच सरकार में राजस्व मंत्री हरीश चौधरी का गैर जिम्मेदाराना बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि सरकार के भरोसे जीवन नहीं बचाया जा सकता, क्योंकि सरकार के पास सीमित संसाधन हैं। जान बचाने के लिए आपको घरों में रहना होगा। राजकीय हॉस्पिटल में बेड फुल हो चुके हैं। डॉक्टर एवं स्वास्थ्य कर्मी लगातार अस्पताल में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। संक्रमण को रोकने के लिए हरीश चौधरी बार-बार प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों एवं डॉक्टरों के साथ मीटिंग कर हालातों का फीडबैक ले रहे हैं।

राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने कहा कि अगर सरकार की मदद करो और अपने आप को अगर बचाने में मदद कर सकते हैं तो खुद घरों में रहकर कर सकते हो। कल बाड़मेर में यह स्थिति हो गई कि हमारे पास बेड नही हैं। यह हमारे लिए बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। ऑक्सीजन की वजह से कर्नाटक में 24 लोगों की मौत होना देश के लिए चिंता बढ़ी है। यह देश मे कही भी नही होना चाहिए। हमारे समाज मे अब किसी बात को नही मानने की प्रवृति थी वो खत्म हो रही है। कोर्ट, सरकारें, जनप्रतिनिधि बार बार अपील कर रहे हैं, घरों में रहो आपात के समय घर से निकलो। मास्क, सैनिटाइजर और दो गज की दूरी बनाए रखें। उसके बावजूद भी लोग मानने को तैयार नही हैं।

गौरतलब है कि जिले में कोरोना संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है। जिसके बाद अस्पताल में बेड फुल हो गए अस्पताल के आसपास की बिल्डिंग अधिग्रहण करने के बाद उनमें बेड लगाये गये थे वहां भी बेड फुल हो गए है। अब महिला कॉलेज में केयर्न वेदांता ने 100 बेड कोविड केयर सेंटर बनाया है जो अभी शुरू नही हुआ है।

खबरें और भी हैं...