आपात रक्तदान शिविर का आयोजन:बाड़मेर जिला अस्पताल में ब्लड बैंक स्टॉक खत्म होने पर युवाओं ने 51 यूनिट रक्तदान किया

बाड़मेर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल में रक्तदान करता युवा। - Dainik Bhaskar
जिला अस्पताल में रक्तदान करता युवा।

बाड़मेर के सबसे बड़े जिला अस्पताल के ब्लड बैंक में ब्लड की कमी के चलते मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। इसको लेकर बाड़मेर के युवाओं ने रक्तदान करने का बीड़ा उठाते हुए आपात रक्तदान शिविर का आयोजन किया। इस शिविर में कुल 51 रक्तदाताओं ने रक्तदान किया।

शनिवार को आपात रक्तदान शिविर खेम सिद्ध डोनर्स क्लब व नया सवेरा संस्थान के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया। जिला अस्पताल के ब्लड बैक में पिछले कुछ समय से ब्लड नहीं होने से अस्पताल में भर्ती मरीजों के जान पर बन पड़ती थी इसको लेकर मरीज के परिजनों को इधर-उधर भटकना पड़ता था। इस शिविर में 2 महिलाओं सहित 51 लोगों ने रक्तदान किया।

मुख्य अतिथि बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने कहा कि रक्तदान पुनीत कार्य है। पीएमओ डॉ बीएल मंसूरिया ने कहा कोरोना संक्रमण ने जहां हर क्षेत्र पर असर डाला वहीं, रक्तदान भी इससे अछूता नहीं रहा। कोरोना काल में स्वैच्छिक रक्तदान में कमी आई। इससे ब्लड बैंक में रक्त का स्टाॅक भी घटा। हालांकि, इस दौरान जरूरतमंदों को समाजसेवियों व रक्तदाताओं की मदद से समय-समय पर रक्त उपलब्ध करवाया गया है।

स्टॉक की थी कमी

जिला अस्पताल के अंदर O पॉजिटिव को छोड़कर सभी तरह के ब्लड की कमी थी। सबसे ज्यादा मरीजों को जरूरत पड़ने वाला बी पॉजिटिव स्टॉक में नहीं होने के कारण मरीजों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा था। इसको देखते हुए जिला अस्तपाल में युवाओं ने बढ़-चढ़कर रक्तदान किया। रक्तदान शिविर का आयोजन समाजसेवी भामाशाह कंवराराम पालीवाल के सहयोग से किया गया।

इस दौरान क्लब संयोजक हरीश गोदारा भुरटिया, हेमंत राज पुरोहित, कुंभाराम समाजसेवी राम मकड़, रमेश मिर्धा, बल्ड बेंक प्रभारी डॉ रविंद्र कुमार यादव, हुकमाराम भड़नावा, भुट्टा खान सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...