पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

थाने में आत्मदाह का मामला:शव रखकर परिजनों का धरना-प्रदर्शन,लिखित समझौता वार्ता के बाद किया अंतिम संस्कार

पोकरण3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रशासन की समझाइश पर माने परिजन, कार्रवाई का आश्वासन

शहर के पुलिस थाना में खुद को आग लगाकर आत्मदाह करने वाले गिरधारीराम भील की जोधपुर में मौत होने के बाद मंगलवार को परिजनों ने उसका अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया। ग्रामीणों के साथ साथ समाज के प्रबुद्ध नागरिकों ने गिरधारीराम के शव को लेकर उसके निवास स्थान मावा गांव में विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही प्रशासन के समक्ष मृतक के परिजनों ने मांगें रखी। इसके साथ ही उन्होंने मांगें नहीं मानने तक शव का अंतिम संस्कार नहीं करने की भी बात कही।

मृतक के परिजनों और समाज के प्रबुद्ध नागरिकों द्वारा सोमवार को सुबह से ही मावा गांव में विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही शव का अंतिम संस्कार नहीं करवाया। मामले को बढ़ता देख अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राकेश बैरवा, अतिरिक्त जिला कलेक्टर ओमप्रकाश विश्नोई, पोकरण उपखंड अधिकारी अजय अमरावत, डिप्टी मोटाराम चौधरी, तहसीलदार बंटी राजपूत, रामदेवरा थानाधिकारी दलपत चौधरी भी मौके पर पहुंचे।

अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर परिजनों और आमजन की मांगों को सुना और उन्हें मृतक का अंतिम संस्कार करवाने की बात कही। लेकिन परिजन अपनी मांगों पर अड़े रहे। वहीं काफी देर तक चली चर्चा के बाद प्रशासन ने परिजनों की मांगों को माना और उन्हें लिखित में आश्वस्त किया। प्रशासन द्वारा लिखित में आश्वस्त करने पर मृतक के परिजनों और अन्य लोगों ने गिरधारीराम का अंतिम संस्कार किया।

परिजनों ने 50 लाख रुपए सहायता व नौकरी की रखी मांग

मृतक के परिजनों ने प्रशासनिक अधिकारियों से गिरधारीराम की पत्नी रुखी देवी को सरकारी नौकरी दिलाने आश्रित परिवार को सरकार की तरफ से 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता की मांग की। साथ ही आश्रित बच्चों की पढ़ाई लिखाई सरकारी खर्चे पर कराने की बात कही। इसके अलावा वर्तमान सरपंच समंदरसिंह को तत्काल बर्खास्त करने के आदेश किया जाए।

मृतक के आश्रित व गरीब परिवार को मकान व टांका सरकारी योजना के तहत बनाकर दिया जाए। डीएसपी मोटाराम गोदारा, व थानाधिकारी रामदेवरा दलपतसिंह चौधरी को तुरंत प्रभाव से निलंबित किया जाए। मृतक के आश्रित परिवार को तुरंत प्रभारी कार्रवाई से निशुल्क विद्युत कनेक्शन जोड़ा जाए। दलित अधिकार अभियान पश्चिमी राजस्थान के संयोजक तोलाराम भील, दलित आदिवासी एक्टिविस्ट जीवनराम भील समेत समाज के सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

लिखित में प्रशासन ने मानी मांगें, कार्रवाई का आश्वासन

मृतक के परिजनों द्वारा मांगे रखने पर प्रशासनिक अधिकारियों ने लिखित में आश्वस्त किया। प्रशासन द्वारा लिखित में आश्वासन देने के बाद परिजनों व अन्य नागरिकों ने शव का अंतिम संस्कार किया।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें