शिविर:प्रशासन गांवों के संग अभियान में अब तक 1289 पट्टों का वितरण, 583 लोगों के नामांतरण खोले

पोकरण2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पोकरण. ग्राम पंचायत गोमट में आयोजित शिविर में उपस्थित लोगों को संबोधित करते केबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद। - Dainik Bhaskar
पोकरण. ग्राम पंचायत गोमट में आयोजित शिविर में उपस्थित लोगों को संबोधित करते केबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद।
  • शिविर में कार्यों की प्रगति नहीं हुई तो संबंधित अधिकारियों के खिलाफ की जाएगी कार्रवाई: केबिनेट मंत्री

ग्राम पंचायतों में चल रहे प्रशासन गांवों के संग शिविर का प्रि कैंप आयोजित किए जाने के बाद भी शिविर में कार्यों में प्रगति नहीं हो रही है। संबंधित विभागों के अधिकारी कार्यों में प्रगति नहीं ला पाए तो उन विभागों के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी विभागीय अधिकारियों की होगी। यह निर्देश राजस्थान सरकार के अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ एवं जन अभाव अभियोग निराकरण मंत्री शाले मोहम्मद ने ग्राम पंचायत गोमट और स्वामीजी की ढाणी में आयोजित प्रशासन गांवों के संग अभियान के निरीक्षण के दौरान उपस्थित अधिकारियों को दिए।

उन्होंने कहा कि प्रशासन गांवों के संग अभियान में कुछ विभागों के अधिकारी काफी अच्छा कार्य कर रहे हैं। लेकिन कुछ विभाग आमजन को कोई लाभ नहीं पहुंचा पा रहे हैं। यह अधिकारी शिविर में आते हैं और बिना कोई प्रगति रिपोर्ट के वापस चले जाते हैं। जिसके कारण ग्रामीणों को इन विभागों का कोई लाभ नहीं मिल पा रहा है। ऐसे विभागों के अधिकारियों को केबिनेट मंत्री ने कड़े शब्दों में निर्देश देते हुए अपने कार्य प्रणाली में सुधारलाएं । शिविर के दौरान पूर्व जिला प्रमुख अब्दुला फकीर, उपखंड अधिकारी राजेश विश्नोई, तहसीलदार बंटी देवी राजपूत, मौजूद थे।

शिविर में मंत्री ने नहीं कराया स्वागत, हादसे में मृत पिता-पुत्र को दी श्रद्धांजलि

ग्राम पंचायत गोमट में आयोजित प्रशासन गांवों के संग अभियान में केबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद के पहुंचने पर स्थानीय सरपंच प्रतिनिधि एडवोकेट फिरोज खां ने स्वागत की परंपरा शुरू की। इस पर केबिनेट मंत्री ने हाल ही में सेना के वाहन से पिता और पुत्र की मौत पर शोक व्यक्त करते हुए अपने स्वागत करने से इन्कार कर दिया। वहीं मृतकों को स्वागत नहीं करवाकर श्रद्धांजलि दी। वहीं केबिनेट मंत्री के इस फैसले का स्थानीय जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों ने स्वागत किया।

कृषि विभाग के अधिकारियों को दिए निर्देश

केबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद ने प्रशासन गांवों के संग अभियान के दौरान कृषि विभाग के अधिकारियों को आड़े हाथ लेते हुए कड़े शब्दों में शिविर में प्रगति लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा शिविर में न तो किसी किसान को फायदा पहुंचा पा रहे हैं और न ही सरकारी योजनाओं में दी जाने वाली सामग्री का वितरण कर रहे हैं। जिसके कारण कोई भी किसान इनकी सरकारी योजनाओं से लाभान्वित नहीं हो पा रहा है। उन्होंने कड़े शब्दों में निर्देशित करते हुए अपनी कार्यप्रणाली में प्रगति लाने के निर्देश दिए।

75 वर्ष बाद 87 ग्रामीणों को मिला पट्‌टा

ग्राम पंचायत गोमट में आयोजित हुए शिविर में केबिनेट मंत्री द्वारा 87 ग्रामीणों पट्टे वितरित किए गए। जिस पर लोगों ने उनका आभार जताया। वहीं तहसीलदार बंटी देवी राजपूत ने बताया कि ग्राम पंचायत गोमट के ग्रामीणों को 75 वर्ष बाद उनके मकानों का मालिकाना हक मिला है। केबिनेट मंत्री शाले मोहम्मद ने कहा कि हाल ही में अभियान में सरपंच प्रतिनिधि द्वारा काफी मेहनत कर ग्रामीणों को उनके मकानों के मालिकाना हक पहुंचाए हैं। जिसके कारण सरपंच प्रतिनिधि बधाई के पात्र है। उन्होंने कहा कि 75 वर्ष बाद लोगों को उनके मकान के मालिकाना हक मिलना शिविर की सफलता की कहानी कहता है।

शिविर में अधिक लोगों को पहुंचाएं लाभ

अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ एवं जन अभियोग निराकरण मंत्री शाले मोहम्मद ने ग्राम पंचायत गोमट और स्वामीजी की ढाणी में आयोजित प्रशासन गांवों के संग अभियान का निरीक्षण कर निर्देश दिए कि क्षेत्र के व्यक्तियों को अपनी अपनी पंचायत, नगर पालिका क्षेत्र में विकास, सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के लिए आवेदन कर अधिकाधिक लाभ पहुंचाया जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि आमजन के कार्यों को प्री कैंप में चिन्हित करें। ताकि शिविर के दौरान आमजन के कार्य हाथोंहाथ कराए जा सकें। साथ ही ग्रामीणों को उनको सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सके।

खबरें और भी हैं...