पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जानकारी प्राप्त की:खेती में जोखिम को कम करने के लिए फसलों का बीमा करवाने की दी जानकारी

पोकरण25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कृषि विज्ञान केंद्र पोकरण ने बुधवार को दूधिया ग्राम में असंस्थागत प्रशिक्षण आयोजित किया। जिसमें ग्रामीण किसानों ने भाग लेकर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में जानकारी प्राप्त की। वैज्ञानिक डॉ. कृष्ण गोपाल व्यास ने किसानों को खरीफ फसलों में अनिश्चित बारिश आंधी तूफान इत्यादि प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान की जोखिम को फसलों का बीमा करवाकर कम किया जा सकता हैं।

उन्होंने 31 जुलाई तक किसानों को ऑनलाइन आवेदन करने की बात कही। वैज्ञानिक सुनील कुमार शर्मा ने फसलों को बीमा से सुरक्षित करके किसान अपनी आमदनी को मजबूत करने के साथ साथ खेती की आधुनिक एवं नई तकनीक अपनाने की आवश्यकता पर विस्तारपूर्वक जानकारी दी। पशुपालन वैज्ञानिक ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना सरकार से अनुदानित योजना हैं। जिसमें खरीफ फसलों का 2 प्रतिशत प्रीमियम निर्धारित किया गया। जिसको किसान स्वयं भी ऑनलाइन नेट बैंकिंग के माध्यम से जमा कर सकता हैं।

उन्होंने ऑनलाइन आवेदन करते समय अपलोड होने वाले दस्तावेजों जैसे आधार कार्ड , बैंक डायरी जमीन की नकल, खसरा नंबर एंव सरपंच और पटवारी के प्रमाण पत्रों की आवश्यकता बताई। केंद्र के मृदा वैज्ञानिक डॉ. बबलू शर्मा ने ग्रामीण किसानों को जमीन एवं पानी के नमूनों को खेत से लेने की सैद्धांतिक जानकारी देते हुए रासायनिक उर्वरको का कम से कम इस्तेमाल करने पर जोर दिया। उन्होंने ग्रामीणों से मिट्टी और पानी की जांच करने के लिए सैंपल इकट्ठे किए।

खबरें और भी हैं...