सुखद खबर:देश में नौ प्रजाति के गिद्ध पाए जाते हैं, इनमें सात तरह के गिद्ध पोकरण क्षेत्र में मिले

पोकरण2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इजिप्शियन गिद्ध - Dainik Bhaskar
इजिप्शियन गिद्ध

देशभर में स्वर्णनगरी स्थानीय पर्यटकों के साथ साथ गिद्धों में भी लोकप्रिय हो रही है। मौसम में हुए बदलाव के साथ ही पूरे देश के गिद्धों की प्रजातियों ने इन दिनों जिले के जंगली इलाकों में डेरा जमाया है। जिसमें अधिकांश गिद्ध इन दिनों रामदेवरा व उसके आस-पास के क्षेत्रों के साथ साथ लाठी, भादरिया क्षेत्र में पाए जाते हैं।

वहीं कई गिद्धों की प्रजाति देगराय ओरण, जैसलमेर में सम के आस-पास के गांवों और ढाणियों में इन दिनों दिखाई दे रहे हैं। देशभर के गिद्धों की प्रजातियां इन दिनों जिले के जंगली इलाकों में दिखाई देने के कारण स्थानीय वन्यजीव प्रेमियों ओर वाइल्ड लाइफ प्रेमियों में खुशी की लहर छा गई है। दूरदराज से वाइल्ड लाइफ प्रेमी इन दिनों इन क्षेत्रों में पहुंचकर सुदूर से आए गिद्धों को निहार रहे हैं।

गिद्ध प्रकृति में स्वच्छता का संदेश देते हैं। गिद्ध मृत जानवरों को खाकर प्रकृति की सफाई करते हैं। इसके साथ ही मृत जानवरों से होने वाले संक्रमण को भी रोकते हैं। खुशी की बात यह है कि अब इनकी संख्या में इजाफा हो रहा है। लेकिन इसके बाद भी वन्य जीव विभाग को गिद्धों की सुरक्षा को लेकर पूर्ण ध्यान देना चाहिए। ताकि इस बहुमूल्य धरोहर को सहेजकर रखा जा सके।

व्हाइट रंपड और रेड हैडेड
व्हाइट रंपड और रेड हैडेड
हिमालयन और इंडियन गिद्ध
हिमालयन और इंडियन गिद्ध
ग्रिफ्फन गिद्ध और सिनेरियस गिद्ध
ग्रिफ्फन गिद्ध और सिनेरियस गिद्ध

तीन प्रवासी प्रजातियां जो सर्दियों में आती है
जिले में आने वाली गिद्धों की सात प्रजातियों में से तीन प्रवासी प्रजातियां है जो कि सर्दियां शुरू होने के साथ ही जिले में प्रवेश करती है। जिसमें से सिलेरस, हिमालयन और ग्रिफ्फन सर्दियां शुरु होने के साथ ही जिले में प्रवेश करती है और मौसम में परिवर्तन होने के बाद गर्मियां शुरू होने पर वापस लौट जाती है। प्रवासी प्रजातियों के गिद्धों की अभी तक ट्रेकिंग नहीं की गई है। ऐसे में अगर इनकी ट्रेकिंग की जाए तो जरुर उनके संरक्षण के लिए विशेष कदम उठाए जा सकते हैं।

नौ प्रजातियों में से 7 प्रजातियों ने जिले में डाला डेरा

पूरे देश में गिद्धों की 9 प्रजातियां पाई जाती है। जिसमें से मात्र दो प्रजातियां जो कि पहाड़ों में निवास करती है उन्हें छोड़कर बाकी सभी प्रजातियों ने इन दिनों जिले के जंगली इलाकों में अपना डेरा डाल रखा है। जिसमें सिनेरियस गिद्ध, ग्रिफ्फन, इजिप्शियन, व्हाइट रंपड गिद्ध, हिमालयन गिद्ध, रेड हैडेड गिद्ध और इंडियन गिद्ध मुख्य रूप से इन दिनों दिखाई दे रहे हैं। इस क्षेत्र में सात प्रजातियों के गिद्धों के दिखाई देने के साथ ही वाइल्ड लाइफ प्रेमियों में भी उत्साह दिखाई दे रहा है।

खबरें और भी हैं...