पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना काल:काेराेना समय में प्रशासन को सौंपे होटल अब बिजली बिल नहीं भर रही है सरकार

पोकरण10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लॉकडाउन में शहर के होटलों को बनाया था क्वारेंटाइन वार्ड, बिजली बिल पर प्रशासन नहीं दे रहा कोई ध्यान

शहर के होटल व्यवसायियों द्वारा कोरोना संक्रमण काल के दौरान प्रशासन की मदद करने का काफी बुरा फल मिला। स्थिति ये कि पिछले एक महीने से लाखों रुपए के बिजली के बिलों को लेकर यह होटल व्यापारी विभागीय अधिकारियों के चक्कर लगा रहे हैं। लेकिन न तो उन्हें इन बिजली बिलों का भुगतान किया गया और न ही उनकी कोई मदद की जा रही है।

ऐसे में दोहरी मार झेल रहे यह होटल व्यवसाई इन दिनों प्रशासनिक अधिकारियों से आस लगाए बैठे हैं। लेकिन स्थानीय अधिकारी इन्हें यह कह कर टरका रहे हैं कि आप सभी की फाइल कलेक्ट्रेट गई हुई है। पिछले एक महीने से यह जवाब सुन रहे होटल व्यवसाई काफी परेशानी झेल रहे हैं।

तत्कालीन जिला कलेक्टर नमित मेहता के आदेश पर पोकरण के सभी निजी होटलों को क्वारेंटाइन वार्ड के रूप में उपयोग में लिया गया। कोरोना का असर पोकरण में खत्म होने के साथ ही होटल मालिकों ने उपखंड मुख्यालय से अपनी होटलों की चाबी ली। अब  किसी के 68 हजार रुपए तो किसी के 63 हजार रुपए, किसी के 58 हजार रुपए बिजली के बिल के आए। प्रशासन न बिल भर रहा है और न ही माफ किया जा रहा है

पोकरण के होटल संचालकों पर दोहरी मार, प्रशासन से बार बार गुहार, लेकिन सुनवाई नहीं हुई
कोरोना के कहर के साथ ही जिला प्रशासन ने शहर की सभी होटलों को क्वारेंटाइन वार्ड बनाया था। जिसमें देवरंग होटल एवं रेस्टोरेंट, गंगा पैलेस, श्री सांई पैलेस, सूरज पैलेस, श्रीराम होटल, स्वागतम होटल, त्रिलोचना होटल एवं रेस्टोरेंट, शक्ति पैलेस को क्वारेंटाइन वार्ड बनाया गया था। वहीं इन होटलों में लोगों को भी ठहराया गया। लेकिन इन होटलों में ठहरे लोगों ने बिजली का पूर्ण रूप से दुरुपयोग किया और वहीं दूसरी ओर प्रशासन द्वारा भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया।

बिजली के बिलों के भुगतान को लेकर स्थानीय होटल व्यवसायियों ने जिला प्रशासन तथा उपखंड अधिकारी को सूचित किया गया था। लेकिन अभी तक इस संबंध में प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिसके कारण स्थानीय होटल व्यवसायियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अधिकारियों द्वारा कोई कार्रवाई नहीं करने और न ही किसी प्रकार का आश्वासन देने के कारण होटल व्यवसायियों की परेशानी खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है।

देवरंग होटल व्यापारी को झेलनी पड़ी दोहरी मार

शहर के जोधपुर रोड स्थित देवरंग होटल एवं रेस्टोरेंट को प्रशासन ने क्वारेंटाइन वार्ड घोषित किया था। वहीं हाल ही में इस क्वारेंटाइन वार्ड में रुकवाए गए लोगों द्वारा सभी बिजली के उपकरणों को चालू छोड़ दिया गया। साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही के चलते शॉर्ट सर्किट के कारण होटल में आग लग गई।

जिसके कारण लगभग 25 लाख रुपए का सामान जल गया। वहीं क्वारेंटाइन वार्ड वापस होटल मालिक को सौंपने के बाद डिस्कॉम ने 68 हजार रुपए का बिल थमा दिया। इस संबंध में उन्होंने प्रशासन को अवगत करवाया। लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। जिसके कारण उन्हें दोहरी मार झेलनी पड़ रही है।

दो माह से आमदनी कुछ नहीं लेकिन बिल लाखों का
कोरोना के कहर के साथ ही पूरे देश में दो माह तक लॉकडाउन रहा। होटल व्यवसायियों की आमदनी बिल्कुल नहीं थी। वहीं होटल व्यवसायियों ने प्रशासन से 17 मई को अपनी होटलों की चाबी वापस ली थी। इसके साथ ही डिस्कॉम द्वारा भी 30 मई तक बिल जमा करवाने के निर्देश दिए। ऐसे में अब बिल भरना बड़ी मुसीबत बन गई है।

  • देवरंग होटल को क्वारेंटाइन वार्ड बनाया गया था। दो महिनों तक यह होटल प्रशासन को दी हुई थी। वहीं प्रशासन द्वारा होटल वापस हैंडओवर करने के कुछ दिनों बाद ही 68 हजार रुपए का बिजली का बिल आ गया। इस संबंध में प्रशासन को अवगत करवाए एक महीने से अधिक का समय हो गया है। लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। -जगदीशसिंह राजपुरोहित, मालिक, होटल देवरंग
  • लॉकडाउन के दौरान ली गई होटलों के बिजली के बिलों में कई होटलों के बिजली के बिल अभी आने बाकी है। वहीं पटवारी को भेजा गया है। सभी बिलों को जिला कलेक्टर के पास भिजवाया जाएगा। वहीं नियमानुसार इन होटल व्यवसायियों को सहायता दिलवाई जाएगी। -अजय अमरावत, उपखंड अधिकारी पोकरण
  • होटल को क्वारेंटाइन वार्ड के रूप में प्रशासन को दिया हुआ था। डिस्कॉम ने 63 हजार रुपए का बिजली के बिल दे दिया। वहीं 30 मई तक बिल जमा करवाने के निर्देश भी दिए। जिस पर बिजली का बिल तो जमा करवा दिया है। लेकिन प्रशासन द्वारा अभी तक कोई सहायता नहीं की गई है। -खुमाणसिंह कर्णोत, मालिक, होटल सूरज पैलेस 
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आप अपने प्रयासों में कुछ परिवर्तन लाएंगे और इसमें आपको कामयाबी भी मिलेगी। कुछ समय घर में बागवानी करने तथा बच्चों के साथ व्यतीत करने से मानसिक सुकून मिलेगा...

    और पढ़ें