धरना समाप्त:बीसीएमएचओ के माफी मांगने व डॉक्टरों के ट्रांसफर निरस्त करवाने का आश्वासन

सिणधरी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिणधरी. धरना स्थल पर लोगों से बात करते बीसीएमओ डॉ. चौधरी। - Dainik Bhaskar
सिणधरी. धरना स्थल पर लोगों से बात करते बीसीएमओ डॉ. चौधरी।

डॉक्टरों के तबादले निरस्त करने एवं सीएचसी में व्यवस्था परिवर्तन को लेकर चल रहा धरना एवं अनशन बुधवार 13 अक्टूबर को समाप्त हो गया। बीसीएमओ डॉ. उमेश चौधरी द्वारा धरना स्थल पर जाकर सार्वजनिक रूप से माफी मांगने एवं सिणधरी प्रधान प्रतिनिधि एवं सरपंच संघ अध्यक्ष पूनमाराम जाणी एवं पायला प्रधान चुन्नीलाल माचरा, नाकोड़ा सरपंच प्रतिनिधि पुखराज कालीराणा, सिणधरी चारणान सरपंच प्रतिनिधि मनोज गोदारा द्वारा डॉक्टरों के तबादले को निरस्त करवाने का आश्वासन देने पर धरना समाप्त किया गया।

धरना स्थल पर आठवें दिन शाम को सुंदरकांड का पाठ करवाया गया एवं सीएमएचओ बाबूलाल विश्नोई के आश्वासन के बाद भी 9 वें दिन सुबह बीसीएमएचओ डॉ. उम्मेद चौधरी अपने सरकारी आवास पर प्रैक्टिस कर रहे थे लेकिन वीडियो वायरल होने एवं मामले को तूल पकड़ता देख सिणधरी प्रधान प्रतिनिधि पूनमाराम जाणी ने डॉक्टरों के साथ वार्तालाप करके स्थानीय सरपंच प्रतिनिधियों एवं डॉक्टरों के साथ धरना स्थल पर पहुंचे एवं समझाइश करने के बाद धरना समाप्त करवाया गया।

धरने को सफल बनाने में व्यापार मंडल सिणधरी, पंचायत समिति सदस्य हरिराम माचरा, मुकेश मूंढण, सिणधरी चौसीरा सरपंच जबर सिंह महेचा, पंचायत समिति सदस्य खेताराम नेण, जयराम प्रजापत, सरवन गोदारा एवं स्थानीय युवाओं और व्यापारियों ने धरने को सफल बनाने में पूर्ण सहयोग दिया।

इन मुद्दों पर बनी सहमति, धरना करवाया समाप्त: स्थानांतरित चिकित्सकों का स्थानांतरण रद्द की जिम्मेदारी दोनों प्रधान पूनमाराम सिणधरी एवं चुन्नीलाल माचरा पायला कला ने ली, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में व्यवस्थाओं के सुधार की जिम्मेदारी बीसीएमओ डॉ. उम्मेदाराम चौधरी एवं सीएचसी इंचार्ज डॉ. अर्जुनराम विश्नोई ने ली, हॉस्पिटल समय मे कोई चिकित्सक आवास पर मरीज नहीं देखेगा, ओपीडी कक्षों में डॉक्टर बैठेंगे, मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी के लिए ओपीडी के लिए 1 अतिरिक्त कक्ष में डॉक्टर बैठेंगे, हॉस्पिटल में सीसीटीवी कैमरा पूरे अस्पताल परिसर में लगाए जाएंगे, बेडशीट धुलाई के लिए वाशिंग मशीन क्रय की जाएगी, अस्पताल की नियमित साफ सफाई होगी, साफ- सफाई की व्यवस्थाओं में तीन दिन के भीतर सुधार किया जाएगा एवं साफ सफाई कार्य के लिए नए टेंडर निकाले जाएंगे, विधायक कोटे से एक्स रे खरीद के लिए टेंडर जारी किए जाएंगे, प्रधान कोटे से अस्पताल के लिए जरूरी उपकरण सामग्री खरीद के लिए 6 लाख रुपए प्रधान ने घोषणा की, समस्त निशुल्क जांचें अस्पताल में ही होगी, अस्पताल में नर्सिंग ड्यूटी लिखित में लगाई जाएगी, नाइट ड्यूटी कर्मचारी कुंडी बंद करके नहीं सोएगा, अस्पताल प्रभारी या डॉक्टर रात्रि में एक बार अवश्य निरीक्षण करेंगे।

खबरें और भी हैं...