अब पुलिसथाने में रहेंगी शहर की गाय:कड़ाके की ठंड से बचाने के लिए नपा ने उठाया कदम, कोतवाली थाने की पुरानी बिल्डिंग को बनाया उनका आशियाना

बादी8 महीने पहले

बाड़ी में अब शहर की गाय और गोवंश थाने में रहेंगे। नगर पालिका ने कड़ाके की ठंड में अकाल मौत का शिकार हो रही गाय और गोवंश को बचाने के लिए शहर के कोतवाली थाने की पुरानी बिल्डिंग को उनका आशियाना बनाया है।

विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा के निर्देशों पर नगर पालिका प्रशासन ने कार्रवाई की है। शुक्रवार की रात्रि को करीब सौ से डेढ़ सौ गायों को थाने की पुरानी बिल्डिंग में शिफ्ट भी किया जा चुका है जिसके लिए त्रिपाल लगाकर बाड़ेबंदी भी की गई है। गायों को भोजन की कमी ना हो इसके लिए चारा और गुड़ भी डलवाया गया है। साथ में सर्दी से बचाने के लिए अलाव भी जलाए हैं।

पूरी रात ड्यूटी पर तैनात रहे नगर पालिका के सफाईकर्मी राजकुमार डागुर और मुकेश हरिजन ने बताया कि नगरपालिका प्रशासन ने गायों को बचाने के लिए यह मुहिम शुरू की है और थाने की पुरानी बिल्डिंग में उनका आशियाना बनाया है। इसमें आज शहर की और गायों को भी शिफ्ट किया जाएगा।

वहीं नगर पालिका के चेयरमैन प्रतिनिधि होतम सिंह का कहना है कि गायों को बचाने के लिए यह प्रयास किया गया है। सभी गाय एक स्थान पर रहेंगी तो उनको भोजन-पानी के साथ अलाव और अन्य व्यवस्थाएं भी की जाएंगी जिससे गोवंश और गायों की कड़ाके की ठंड में अकाल मौतों का सिलसिला रुक सकेगा।

खबरें और भी हैं...