पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मार्मिक:14 वर्षीय प्रीति का एक पैर और हाथ की अंगुलियां कटीं, चारपाई पर रिपोर्ट लिखाने थाने लाए परिजन

बयाना8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रफ्तार के कहर ने बिगाड़ दिया मासूम का बचपन
  • 21 सितंबर को घर के बाहर खेलते समय हुआ हादसा, परिजन इलाज में रहे व्यस्त, अब कराया मामला दर्ज

वाहनों को तेज रफ्तार में भगाने का शौक किसी के जीवन को कैसे बर्बाद कर सकता है। इसका दर्द इस फोटो में खाट पर लेटी इस मासूम बालिका के कटे पैर व कटी हथेली को देखकर आसानी से महसूस किया जा सकता है। तेज रफ्तार का कहर इस मासूम की जिंदगी से खिलवाड़ कर गया। बयाना थाना क्षेत्र के गांव पिदावली गांव निवासी 7वीं कक्षा की छात्रा 12 वर्षीया प्रीति पुत्री विक्रम जाटव गत 21 सितम्बर को अपने गांव में अन्य साथी बच्चों के साथ सडक के सहारे खड़ी हुई थी। तभी एक चालक अपने ट्रैक्टर को तेज रफ्तार में भगाता हुआ लाया तथा असंतुलित होकर सड़क सहारे खड़ी प्रीति के पैर को कुचलता हुआ निकल गया।

उपचार के दौरान प्रीति के दाएं पैर को घुटने से नीचे काटना पड़ा। हादसे में प्रीति उछलकर गिरी तो उसका हाथ कांटेदार तारों की बाड में आ गया। इससे उसके दाएं हाथ की आधी हथेली व दो अंगुलियां भी कट गई। उपचार के बाद हाथ-पैर पर बंधी पट्टियों के साथ प्रीति बुधवार को परिजनों के साथ थाने पहुंची।

प्रीति को परिजन एक टैम्पो में खाट बिछाकर उस पर लिटा कर लाए थे। बालिका के कटे पैर व हथेली को देखकर थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों व अन्य लोगों की आंखें भी नम हो उठी। लोगों का कहना था कि काश, लोग अपने वाहनों को तेज रफ्तार में नहीं भगाए तो जिंदगियों से खिलवाड़ पर काफी हद तक अंकुश लग सकता है।

खबरें और भी हैं...