पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गांव ध्वजा मौरोली का मामला:3 साल पहले मनरेगा में बनी ग्रेवल सड़क को ग्रामीणों ने उखाड़ा, ईंटों को भी ले गए

बयाना13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बयाना. ध्वजा मौरोली गांव में सड़क से उखाड़ी गई ईंटे। - Dainik Bhaskar
बयाना. ध्वजा मौरोली गांव में सड़क से उखाड़ी गई ईंटे।
  • ग्राम पंचायत ने पूर्व में आरोपियों की सहमति के बाद खातेदारी की जमीन में बनाई थी सड़क

बयाना पंचायत समिति की ग्राम पंचायत जसपुरा मौरोली के गांव ध्वजा मौरोली में करीब एक दर्जन ग्रामीणों ने मनरेगा योजना के तहत 3 साल पहले बनी करीब 125 फीट लंबाई की ग्रेवल सड़क को उखाड़ दिया और सड़क में लगी ईंटों को चोरी कर ले गए।

ग्रामीणों ने सड़क के साथ बनाई सुरक्षा दीवार को ढहा दिया और उस जमीन को जोत दिया। बताया गया है कि जिस जमीन में ग्रेवल सड़क बनाई गई थी वह आरोपियों की खातेदारी की है। हालांकि ग्रेवल सड़क बनाने से पहले आरोपियों ने सड़क बनाने की लिखित सहमति दी थी। मामले को लेकर ग्राम पंचायत के ग्राम विकास अधिकारी मनीष कुमार ने नामजद ग्रामीणों के खिलाफ थाने में चोरी और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज कराया है।
2017 में गांव ध्वजा मौराेली में करीब 8 लाख रुपए की लागत से बनवाई थी सड़क
ग्राम विकास अधिकारी ने दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया कि मनरेगा योजना के तहत गांव ध्वजा मौरोली में वर्ष 2017 में करीब आठ लाख की लागत से ग्रेवल ईंट खरंजा सड़क का निर्माण किया गया था। रिपोर्ट में बताया कि गांव के ही धनीराम, बन्नी, मोहन, धारा, भूपेंद्र, हरिकेश, राकेश, थानसिंह, अजीत, संजय आदि ने रात को सड़क को उखाड़ दिया और उसमें से ईंटों को निकाल कर चोरी कर ले गए। ग्राम विकास अधिकारी ने बताया कि सड़क उखाड़ने की घटना पर वह मौके पर पहुंचे और आरोपियों से सड़क उखाड़ने का कारण पूछा तो वे मारपीट पर उतारु हो गए और उसके पास मौजूद रिकॉर्ड को फाड़ दिया।
रिपोर्ट में पुलिस चौकी इंचार्ज पर मिलीभगत का आरोप
ग्राम विकास अधिकारी ने दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया कि क्षेत्र के कलसाडा पुलिस चौकी इंचार्ज एएसआई भगवान सिंह आरोपियों से मिला हुआ है। ऐसे में मामले का अनुसंधान चौकी इंचार्ज को नहीं सौंपा जाए।

आरोपियों ने खातेदारी जमीन की लिखित में दी थी सहमति
ग्राम विकास अधिकारी ने बताया कि उक्त सड़क आरोपियों की खातेदारी की जमीन में बनी थी। लेकिन सड़क बनने से पूर्व इन्हीं लोगों ने लिखित में सहमति दी थी। जिससे आगे कोई विवाद की स्थिति उत्पन्न नहीं हो सके। सहमति पत्र उनके रिकॉर्ड में मौजूद है।

लेकिन अब सड़क बनने के 3 साल बाद आरोपियों की नीयत में खोट आ गया है और उन्होंने सड़क की जमीन को अपनी बताते हुए उसे उखाड़ दिया है और उसकी ईटों को चोरी कर ले गए हैं वहीं सुरक्षा दीवार को भी गिरा दिया है और उस जगह को ट्रैक्टर से जोत दिया है। जिससे सड़क पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser