पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

घायल की मौत:लाल दरवाजा क्षेत्र में मारपीट के बाद घायल युवक की मौत

बयाना8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कस्बे के लाल दरवाजा इलाके में मारपीट की घटना के बाद उपचार के दौरान हुई युवक योगेश जाटव की मौत के मामले में रविवार को पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण कर नक्शा मौका बनाया तथा रिपोर्ट में बताए गए गवाहों के बयान लिए। गौरतलब है कि लाल दरवाजा निवासी 28 वर्षीय युवक योगेश जाटव पुत्र ओमप्रकाश की शनिवार को सीएचसी में उपचार के दौरान मौत हो गई थी।

मामले को लेकर मृतक की मां पूरन देई ने पड़ोसी नपा के पूर्व कार्यवाहक चेयरमैन कमल किशोर व उसके पिता रामचरन गुड्डू समेत बस्ती के दर्जनभर नामजद लोगों के खिलाफ घर में घुसकर लाठी-सरियों से हमला कर उसके पुत्र की हत्या करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया है। मृतक योगेश गांजे के नशे का आदी था तथा शुक्रवार को भी उसने नशे की हालत में बस्ती में उत्पात मचाया था।

जिसकी लोगों ने पुलिस को भी शिकायत की थी। इसके बाद पुलिस मौके पर भी पहुंची थी लेकिन योगेश घर के अंदर बंद हो गया। पुलिस ने मृतक का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया। रिपोर्ट में मृतक की मां ने रामचरन गुड्डू, कमलसिंह, नंदकिशोर, सोनू, बोना, छुट्टन, कल्ला, दीपक, दुर्गा, कुलदीप, अवधेश जाटव को नामजद किया है।

रिपोर्ट में मृतक की मां ने बताया कि जब वह घायल पुत्र को अस्पताल ले जाने लगी तो आरोपियों ने उसे रोक दिया। इससे करीब 6 घंटे तक उसका पुत्र तड़पता रहा। बाद में वह थाने पहुंची तथा सूचना देकर पुलिसकर्मियों को लेकर घर आई। जिन्होंने ने उसके घायल पुत्र को अस्पताल पहुंचवाया।

जहां उपचार के थोड़ी देर बाद ही मारपीट से हालत नाजुक होने से उसके पुत्र की मौत हो गई। एसएचओ पूरन सिंह मीना ने बताया कि रविवार को घटनास्थल का निरीक्षण करने के साथ ही आसपास के लोगों से जानकारी जुटाई है। नक्शा मौका बनाकर गवाहों के बयान दर्ज किए गए हैं।

खबरें और भी हैं...