आत्मनिर्भर किसान अभियान:प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय ने गांव मूड़िया साद में किसानों को जैविक खेती की दी जानकारी

भुसावर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की ओर से ग्राम पंचायत आमोली के गांव मूड़िया साद, शाहपुर, नगला खटाना, छोटी आमोली एवं बड़ी आमोली मे 'आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में स्वर्णिम भारत की पहचान आत्मनिर्भर किसान अभियान" का आयोजन किया। कार्यक्रम मुख्य अतिथि ग्राम पंचायत आमोली की विकास अधिकारी आशा गोयल एवं विशिष्ट अतिथि रमाकांत शर्मा की उपस्थिति में किया गयाl

कार्यक्रम की शुरुआत ईश्वरीय स्मृति के साथ की गई। अतिथियों को तिलक, बैज, पटका पहनाकर के स्वागत कियाl अभियान यात्रियों का कलश पर माला पहनाकर स्वागत किया गया l

ब्रम्हाकुमारी संस्कृति बहन ने अभियान का लक्ष्य एवं उद्देश्य बताते हुए कहा कि इस अभियान में एक हजार कार्यक्रम किए जा रहे हैं। 12 हजार अभियान यात्रियों के द्वारा 10 हजार से भी अधिक गांव में लाभ मिल रहा हैl अभियान के माध्यम से गांव -गांव में रसायनिक खादों और जहरीली दवाइयों के प्रति किसानों को जागरूक करना एवं उनसे मुक्ति दिलाना है।किसानों को इन सब के बारे में जानकारी दी जा रही है l

मुख्य अतिथि के रुप में ग्राम पंचायत आमोली की विकास अधिकारी आशा गोयल ने अपने वक्तव्य में कहा कि इस अभियान के द्वारा जो जानकारी दी जा रही है वह बहुत ही महत्वपूर्ण है l जमीन के छोटे से टुकड़े से शाश्वत यौगिक खेती की शुरुआत करें और उसका परिणाम देख कर आगे भी इसी प्रकार के किसी पद्धति को अपनाने प्रयास करें l

खबरें और भी हैं...