पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अनदेखी:9वीं कक्षा की 11 हजार बेटियों को साइकिल का इंतजार, 31 बेटियों को नहीं मिल पाई है स्कूटी, आधा सत्र बीता

डीग2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अभी तक माध्यमिक शिक्षा निदेशालय की ओर से साइकिल देने के लिए नहीं लिया गया कोई निर्णय

कोरोनाकाल में सुरक्षा की दृष्टि से स्कूल अनिश्चितकाल के लिए बंद है। स्कूलों के खोले जाने को लेकर अभी कोई गाइडलाइन नहीं है। ऐसे में स्कूली योजनाओं की भी क्रियान्वित नहीं हो पा रही है। सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाली 9वीं की छात्राओं को मिलने वाली साईकिल आज आधा सत्र निकल जाने के बाद भी नहीं मिल सकी हैं। कोरोना के कारण सरकार ने स्कूलों में छात्राओं को दी जाने वाली साईकिल वितरण योजना को लेकर कोई निर्णय नहीं लिया है।

जिले में 540 सरकारी सैकंडरी एवं सीनियर स्कूल हैं। इस स्कूलों में कक्षा 9वीं में पढ़ने वाली 11 हजार 785 छात्राओं को इस साल अभी तक निशुल्क साइकिलें नहीं मिल सकी हैं। पिछले साल के आंकड़ों पर नजर डालें तो नवंबर माह में ही बेटियों को स्कूलों में निशुल्क साइकिलें उपलब्ध करवा दी गई थी। लेकिन इस बार अभी तक छात्राओं को साइकिलों का आज भी इंतजार है। कोरोना काल में इस बार राज्य सरकार ने इस पर कोई निर्णय नहीं लिया है।

माध्यमिक शिक्षा निदेशालय बीकानेर राजस्थान की ओर से अभी तक स्कूल स्तर से 9वीं कक्षा में अध्ययनरत छात्राओं की शाला दर्पण पर कोई भी डिटेल ऑनलाइन अपलोड भी नहीं करवाई गई है। राज्य सरकार की ओर से 9वीं में सरकारी स्कूलों में अध्ययनरत सभी छात्राओं के लिए हर साल निशुल्क साइकिलों का वितरण किया जाता है।

ट्रांसपोर्ट वाउचर लेने वाली छात्राओं को साइकिल नहीं दी जाती है। इनके टेंडर प्रोसेस के बाद संबंधित एजेंसी की ओर से जिला मुख्यालय पर साइकिलों को तैयार कर नवंबर तक वितरण किया जाता है। लेकिन, अभी तक इस संबंध में शिक्षा विभाग ने किसी प्रकार की कोई भी कवायद नहीं की है। वहीं दूसरी ओर अभिभावकों को भी बेटियों के लिए साइकिलों का इंतजार है।
10 वीं की 9, 12 वीं की 22 छात्राओं को स्कूटी का इंतजार
माध्यमिक शिक्षा बोर्ड परीक्षाओं में बेहतर परिणाम देने वाली भरतपुर जिले की 31 बेटियों को शिक्षा विभाग की ओर से स्कूटी दी जानी थी। इस पुरस्कार के लिए आठ संवर्गों में सामान्य, एससी, एसटी, ओबीसी, अल्पसंख्यक, एसबीसी, बीपीएल व दिव्यांग श्रेणी की छात्राएं शामिल हैं। जिनमें कक्षा 10 की 9 छात्राओं, 12वीं कक्षा की तीनों संकायों कला, विज्ञान और कॉमर्स की 22 छात्राओं सहित कुल 31 छात्राएं शामिल है। जिन्हें भी आज तक स्कूटी का इंतजार है।

सरकार के निर्देशानुसार होगा साइकिलों का वितरण : प्रेम सिंह
^शाला दर्पण की ऑनलाइन रिपोर्ट के अनुसार जिले के सरकारी सैकंडरी एंव सीनियर सैकंडरी 540 स्कूलों की करीब 11 हजार से अधिक बेटियां साइकिल योजना के लिए पात्र हैं। सरकार की ओर से निर्देश मिलते ही पोर्टल पर पात्र छात्राओं का डाटा संस्था प्रधानों से ऑनलाइन करवा लिया जाएगा। साइकिलों का वितरण राज्य सरकार के निर्देशानुसार ही होगा।

प्रेमसिंह कुंतल, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक मुख्यालय

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपने अपनी दिनचर्या से संबंधित जो योजनाएं बनाई है, उन्हें किसी से भी शेयर ना करें। तथा चुपचाप शांतिपूर्ण तरीके से कार्य करने से आपको अवश्य ही सफलता मिलेगी। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर ज...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser