पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बिजली विभाग:डीग में सरकारी महकमों सहित उपभोक्ताओं पर 33.13 करोड़ रूपए बकाया, कटेंगे कनेक्शन

डीग2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बकाया बिजली बिलों को लेकर डिस्काॅम प्रबंधन सख्त, बकायादारों की संपत्ति होगी नीलाम

(अमित शर्मा). प्रदेश की सरकारी बिजली कंपनियां घाटे से जूझ रही हैं तथा बिजली चोरी व बिल जमा नहीं होने के कारण वित्तीय हानि उठानी पड़ रही है। इसका आम उपभोक्ताओं पर टैरिफ बढ़ा कर भार डालना पड़ता है। ऐसे में अब बिजली बिलों को बकाया रखने वालो की खैर नहीं होगी। जयपुर डिस्कॉम प्रबंधन बकाया बिल समय पर जमा नहीं करवाने वाले उपभोक्ताओं पर सख्ती शुरू करने जा रहा है।

बिजली राशि का समय पर बिल जमा नहीं करवाने वाले उपभोक्ताओं के अब रोजाना कनेक्शन काटने के साथ बकायादारों की इयूडीआर एक्ट के तहत संपत्ति नीलामी की कार्रवाई की जाएगी। विभागीय अधिकारियों को इसके लिए उपभोक्ता को नोटिस भी देना होगा ताकि उसे बिल जमा कराने का मौका दिया जा सके और कोई कानूनी पेंच नहीं उलझे।
डिस्काॅम प्रबंधक निदेशक एके गुप्ता ने वर्चुअल वीडियो कांफ्रेंस के जरिए समीक्षा कर सौ फीसदी वसूली की बात कही है। साथ ही गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष 1.5 फीसदी बिजली छीजत कम करने के निर्देश दिए है। प्रबंधक निदेशक का कहना है कि जहां बकाया बिल ज्यादा और छीजत अधिक है, वहां पर टेक्निकल व लेखा शाखा के अधिकारियों की टीम भेजी जाएगी।
सब डिवीजन में 6 हजार 869 उपभोक्ताओं पर 1281.86 लाख बकाया
डीग सब डिवीजन में 6 हजार 869 ऐसे आम उपभोक्ता हैं, जिनकी बिजली सुचारू है। लेकिन विभाग का बिजली बिलों का 12 करोड 81 लाख 86 हजार बकाया है। आंकड़ों पर नजर डालें तो कनिष्ठ अभियंता क्षेत्र डीग शहर में 1 हजार 348 उपभोक्ताओं पर 2 करोड़ 51 लाख 55 हजार, डीग ग्रामीण में 3 हजार 33 उपभोक्ताओं पर 6 करोड 5 लाख 70 हजार एंव जनूथर में 2 हजार 488 उपभोक्ताओं पर 4 करोड 24 लाख 61 हजार रुपए बिजली के बिलों का बकाया है।
कनेक्शन कटे, 5 हजार 561 उपभोक्ताओं पर 14 करोड़ 6 लाख
डीग सब डिवीजन में 5 हजार 561 ऐसे डीसी-पीडीसी उपभोक्ता हैं। जिन पर बिजली बिलो का 14 करोड 69 लाख 64 हजार बकाया है । हालांकि विभाग की ओर से इन उपभोक्ताओं का कनेक्शन काट दिया गया है। डीसी-पीडीसी उपभोक्ताओं के आंकड़ों पर नजर डाले तो कनिष्ठ अभियंता क्षेत्र डीग शहर में 778 उपभोक्ताओं पर 2 करोड़ 12 लाख 53 हजार, डीग ग्रामीण में 2 हजार 606 उपभोक्ताओं पर 7 करोड 18 लाख 12 हजार एवं जनूथर में 2 हजार 177 उपभोक्ताओं पर 5 करोड 38 लाख 99 हजार रुपए बिजली के बिलो का बकाया है।

बकाया, पीएचईडी पर 2.52 करोड़ और नपा पर 1.49 कराेड़ रुपए पेंडिंग
डीग सब डिवीजन में 5 करोड़ 62 लाख से ज्यादा सरकारी महकमों पर बाकी है। सरकार यदि सरकारी महकमों से ही समय पर रिकवरी कर ले तो भी आम उपभोक्ताओं को बिजली से कुछ राहत मिल सकती है। बिलों की पेंडिंग के आंकड़ों पर नजर डालें तो सर्वाधिक बकाया 2 करोड 52 लाख पीएचईडी पर है। वहीं नगर पालिका पर 1 करोड 49 लाख 77 हजार रुपए बकाया है। साथ ही जेजेवाई में 10 लाख 82 हजार, सरपंचों/ग्राम पंचायतों पर 16 लाख 25 हजार, प्रशासनिक विभागों पर 12 लाख 8 हजार, पुलिस पर 38 लाख 27 हजार सहित अन्य विभागों पर 47 लाख 69 हजार के साथ केंद्रीय विभागों पर भी 34 लाख 78 हजार रुपए बकाया है।

चेतावनी, दो माह से अधिक बकाया बिजली बिल है तो कटेगा कनेक्शन
डिस्काॅम अब वसूली के लिए बिजली बिल जमा नहीं करने वालों पर सख्ती करने के साथ कनेक्शन काटने की कार्रवाई करने जा रहा है। सहायक अभियंता अनुराग शर्मा ने बताया कि उपभोक्ता पर दो माह से अधिक बिल बकाया होने पर विभाग उसके कनेक्शन को काटने की कार्रवाई करेगा। साथ ही बिजली विच्छेद (डीसी-पीडीसी) कनेक्शनों से वसूली के लिए विभाग नोटिस जारी करेगा। नोटिस के बाद भी बकाया राशि जमा नहीं होने की स्थिति में विभागीय अधिकारी इयूडीआर एक्ट के तहत बकायादारों उपभोक्ताओं की संपत्ति की नीलामी करने की कार्रवाई करेंगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें