पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

199 सेंटरों पर 51 हजार 743 परीक्षार्थी देंगे परीक्षा:2017 के बाद 2021 में रीट परीक्षा 26 को, प्रदेश में 16 लाख एडमिट कार्ड दिखाकर अभ्यर्थी रोडवेज में मुफ्त यात्रा कर सकेंगे

डीग10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

रीट को लेकर जिले के युवा घर-परिवार भूलकर जोर-शोर से तैयारी में जुटे हैं। किसी की शादी अटकी है, किसी के लिए आखिरी मौका है। यह परीक्षा इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि यह तीन बाद हो रही है। शिक्षा विभाग इसको लेकर अतिरिक्त सावधानी बरत रहा है। 26 सितंबर को होने वाली राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट एग्जाम) में प्रदेशभर से 16 लाख से अधिक अभ्यर्थी बैठेंगे। तय समय से देरी से पहुंचने पर अभ्यर्थियों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। एग्जाम सेंटर पर थर्मल स्कैनिंग, मास्क, सेनेटाइजर व सोशल डिस्टेंसिंग, पुलिसकर्मियों की व्यवस्था की जाएगी। रीट एग्जाम का रिजल्ट नवंबर में आने की संभावना है।

रीट के जिला समन्वयक अशोक कुमार अग्रवाल ने बताया कि जिले में रीट के लिए 199 सेंटर बनाए गए हैं, जिन पर 51 हजार 743 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। परीक्षा दो परियों में होगी। इसमें पहली रीट लेवल टू (कक्षा 6 से 8) पहली पारी में सुबह 10 बजे से 12.30 बजे तक और लेवल फ़र्स्ट (पहली से 5वीं) तक की परीक्षा दोपहर 2.30 से शाम 5 बजे तक होगी। प्रवेश पत्र 16 सितंबर के बाद से डाउनलोड होने की संभावना है।

रीट एग्जाम की पहली पारी में अभ्यर्थियों को सुबह 9 बजे से प्रवेश शुरू कर 9.30 पर प्रवेश बंद कर दिया जाएगा। दूसरी पारी में दोपहर 1.30 से प्रवेश शुरू कर 2 बजे प्रवेश बंद कर दिया जाएगा। एग्जाम से आधा घंटे पहले एग्जाम सेंटर में प्रवेश बंद कर दिया जाएगा। सेंटर पर करीब एक घंटे पहले पहुंचना होगा।

एक घंटे पहले पहुंच जाएं परीक्षा केंद्र...

अभ्यर्थियों को परीक्षा शुरू होने से एक घंटे पहले परीक्षा केंद्र पहुंचना होगा। अगर एक घंटे पहले केंद्र पर नहीं पहुंच पाया तो उसे परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। शिक्षा विभाग ने रीट की गाइड लाइन जारी की है। इसका पालन नहीं करने पर अभ्यर्थी को परीक्षा देने से रोका जा सकता है। अभ्यर्थी परीक्षा कक्ष में घड़ी, चेन, अंगुठी, कान के टॉप्स, लॉकेट या अन्य किसी भी प्रकार के आभूषण पहनकर नहीं जा सकते।

इसके अलावा मोबाइल, पर्स, हैंडबैग या डायरी लाने पर भी रोक है। किसी भी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक उपकरण मोबाइल, ब्लूटूथ, कैल्कुलेटर भी नहीं ला सकते। अगर इनमें से कोई भी वस्तु अभ्यर्थी के पास मिली तो उसके खिलाफ अनुचित साधनों की रोकथाम अधिनियम-1992 में कार्रवाई होगी। वहीं, परीक्षा के दौरान अभ्यर्थियों को अपने साथ पानी की पारदर्शी बोतल लेकर आने की अनुमति रहेगी।a

बोर्ड कार्यालाय में 20 को बनेगा कंट्रोल रूम
20 सितंबर से बोर्ड कार्यालय में केंद्रीय कंट्रोल रूम शुरू होगा, जो 22 सितंबर तक सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक और 23 सितंबर से 27 सितंबर तक सुबह 8 बजे से रात 10 बजे तक कार्यरत रहेगा। कंट्रोल रूम का नंबर 0145-263436 और 0141-2630437 है। जिला कंट्रोल रूम भी बनेगा, जो परीक्षा के दौरान कलेक्टर कार्यालय या डीईओ माध्यमिक कार्यालय में 25 सितंबर सुबह 6 बजे से 26 सितंबर को परीक्षा समाप्ति तक और परीक्षा सामग्री अजमेर कार्यालय रवाना होने तक कार्यरत रहेंगे। एडमिट कार्ड परीक्षा तिथि से 10 से 12 दिन पूर्व जारी होंगे।

परीक्षा केंद्रों पर इंटरनेट है तो प्रश्न पत्र पहुंचने से दो घंटे पहले बंद होगा, केंद्रों की होगी वीडियोग्राफी

जारी निर्देशों के अनुसार ऐसे परीक्षा केंद्र जहां पर इंटरनेट की सुविधा है, उन केंद्रों पर प्रश्न पत्र पहुंचने से कम से कम दो घंटे पहले ही इंटरनेट सुविधा को बंद कर दिया जाएगा। इसके साथ ही परीक्षा वाले दिन परीक्षा केंद्र पर कक्षाओं, कोचिंग या हॉस्टल का संचालन भी नहीं होगा, ताकि किसी भी तरह की धांधली और बेईमानी को रोका जा सके। परीक्षा केंद्रों में वीडियोग्राफी होगी। निजी स्कूलों में परीक्षा केंद्रों में आधे पर्यवेक्षक सरकारी होंगे और सुपरवाइजर का काम भी सरकारी कार्मिक ही करेंगे।

खबरें और भी हैं...