फेक आदेश!:कोरोना के कारण स्कूल-कोचिंग बंद करने के फेक आदेशों से मचा हडकंप, शिक्षा विभाग ने कहा- 100 फीसदी फर्जी

डीग2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजस्थान के सभी शिक्षण संस्थाओं और कोचिंग को बंद करने और ऑनलाइन क्लास शुरू करने का आदेश हैं। - Dainik Bhaskar
राजस्थान के सभी शिक्षण संस्थाओं और कोचिंग को बंद करने और ऑनलाइन क्लास शुरू करने का आदेश हैं।

राजस्थान में बढ़ रहे कोरोना वायरस ओमिक्रॉन के खतरा के बीच सोशल मीडिया पर वायरल हुए स्कूल व कोचिंग आगामी आदेश तक बंद रखने के आदेश से शिक्षा जगत सहित अभिभावकों में हडकंप मच गया है। जयपुर में रविवार को एक ही दिन में ओमिक्रॉन के 9 पॉजिटिव मिलने के बाद घबराहट उत्पन्न हो गई है। इस बीच रविवार की रात किसी ने गृह विभाग का फर्जी आदेश वायरल कर दिया।

जिसमें राजस्थान के सभी शिक्षण संस्थाओं और कोचिंग को बंद करने और ऑनलाइन क्लास शुरू करने का आदेश हैं। वायरल आदेश में राज्य में बढते कोरोना वायरस के प्रभाव को देखते हुए सभी शिक्षण संस्थाओं को 6 दिसंबर से बंद करने और ऑनलाइन क्लासेज शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं। हालांकि जांच के बाद यह आदेश फर्जी निकला। जिसके बाद विभाग ने भी स्पष्टीकरण जारी किया है।

सोशल मीडिया पर सोमवार सुबह से ही राजस्थान सरकार के गृह विभाग में शासन सचिव एनएल मीणा के नाम से जारी इस फेक आदेश में शैक्षणिक संस्थानों को 6 दिसंबर से बंद रखने के साथ ऑनलाइन कक्षाएं लेने की बात लिखी गई है। आदेश के सोशल मीडिया पर वायरल होते ही शिक्षा जगत सहित अभिभावकों में खलबली मच गई। अभिभावक दो दिनों से इस आदेश की सत्यता को लेकर जानकारी ले रहे हैं।

वहीं स्कूलों के संस्था प्रधान इन आदेशों को लेकर पशोपेश में हैं। संस्था प्रधानों का कहना है कि विभाग ने हाल ही में 13 दिसंबर से अर्द्धवार्षिक परीक्षाएं आयोजित करने के आदेश दिए हुए हैं। इस बीच यह नए आदेश समझ से परे हैं। अब शिक्षा विभाग ने इस आदेश के फर्जी होने की पुष्टि की है।

सोशल मीडिया पर स्कूल बंद करने के जो आदेश वायरल हो रहे हैं, वो 100% फर्जी हैं। विभाग इन आदेशों की पुष्टि नहीं करता है। - प्रेमसिंह कुंतल, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक मुख्यालय

खबरें और भी हैं...