पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शिक्षा:डीग में पहली कक्षा में प्रवेश के लिए 30 सीटों पर आए 70 फार्म कक्षा 2, 5 और 8 वीं में वैकेंसी नहीं, फिर भी 49 आवेदन आ गए

डीग3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
डीग. प्रवेश के लिए लाॅटरी निकलता बच्चा। - Dainik Bhaskar
डीग. प्रवेश के लिए लाॅटरी निकलता बच्चा।
  • डीग और बयाना में पहली कक्षा में प्रवेश के लिए निकाली लॉटरी, डीग में कराई वीडियों ग्राफी ताकि बाद में अपनाे को एडमिशन देने के आरोप न लगे
  • सरकारी इंग्लिश स्कूल की तरफ लोगों का बढ़ रहा है रुझान...

शहर के तेलीपाडा निवासी सक्षम एंव नई सडक निवासी तन्वेश और उनके पैरेंट्स के चेहरे पर उस वक्त खुशी की झलक साफ नजर आई, जब उन्हें सरकारी अंग्रेजी माध्यम स्कूल में प्रवेश के लिए निकाली गई लॉटरी में उनके नाम के निकलने की जानकारी मिली। वहीं कई ऐसे अभिभावक भी थे, जिनके बच्चे का नाम लॉटरी में नहीं निकला और वे मायूस नजर आए।

बुधवार को महात्मा गांधी राजकीय अंग्रेजी माध्यम स्कूल डीग में सत्र 2020-21 में पहली कक्षा के लिए लाॅटरी निकाली गई। संस्था प्रधान नीरज शर्मा ने बताया कि पहली कक्षा में 30 सीटों के लिए 70 आवेदन प्राप्त हुए। जिनमें से 19 आवेदन पत्र निर्धारित तिथि को आयु पूर्ण नहीं होने के कारण निरस्त हो गए।

शेष 51 आवेदन पत्रों में से 30 विद्यार्थियों का प्रवेश वरीयता का निर्धारण लाॅटरी के जरिए किया गया। शेष रहे 21 प्रवेश योग्य विद्यार्थियों की वरीयता का निर्धारण आरक्षित सूची के लिए किया जाएगा। लाॅटरी पांचवीं कक्षा के बच्चे माधव खण्डेलवाल से निकलवाई गई।

लॉटरी प्रक्रिया के दौरान सुखवीर सिंह, पवन खण्डेलवाल, कुशलपाल सिंह मौजूद रहे। इस पूरे कार्यक्रम की वीडियोग्रॉफी भी कराई गई ताकि किसी प्रकार का विवाद न हो और पारदर्शिता रहे।

जानिए, सीटों के एवज में कितने आवेदन प्राप्त हुए

कक्षा पहली में 30 सीट के लिए 70 आवेदन प्राप्त हुए थे। इसके अलावा कक्षा तीसरी में 2 सीट के लिए 18, चौथी में 6 सीट के 27, छठवीं में 6 सीट के लिए 27 एंव कक्षा सातवीं में 3 सीट के लिए 19 आवेदन प्राप्त हुए है। वहीं कक्षा दूसरी, पांचवीं एवं आठवीं में कोई वैकेंसी नहीं होने के बाद भी तीनों कक्षाओं के लिए 49 आवेदन प्राप्त हुए है। पहली कक्षा की लाॅटरी के बाद अब अन्य कक्षाओं की लाॅटरी 24 जून को निकाली जाएगी।

ग्रामीण बच्चों का अंग्रेजी माध्यम में पढ़ने का सपना हुआ साकार

सरकार की ओर से ग्राम पंचायत मुख्यालय पर अंग्रेजी माध्यम स्कूल शुरू किए गए हैं। इनसे अब ग्रामीण क्षेत्रों के मेधावी व गरीब बच्चों का भी अंग्रेजी माध्यम में पढ़ने का सपना साकार हो सकेगा। क्योंकि इंग्लिश मीडियम निजी स्कूलों की भारी-भरकम फीस व इंग्लिश मीडियम स्कूल नहीं होने से ग्रामीण इलाकों के बच्चों को दिक्कत आ रही थी। अब राज्य सरकार के अंग्रेजी स्कूलों में गरीब बच्चे भी निशुल्क व न्यूनतम खर्च में शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे। लॉटरी द्वारा प्रवेश प्रक्रिया होने से ग्रामीण मेधावी छात्र-छात्राओं को अंग्रेजी माध्यम में पढ़ने का अवसर सुलभ हो सकेगा।

बयाना में 30 सीटों के लिए 36 आवेदन

बयाना। पालीडांग ग्राम पंचायत स्थित महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय अंग्रेजी माध्यम की कक्षा एक में प्रवेश के लिए एसएमसी अध्यक्ष भरत सिंह, पंचायत सरपंच प्रतिनिधि सुरेश चंद जाटव तथा अभिभावकों के समक्ष लॉटरी निकाली गई। 30 सीटों पर प्रवेश के लिए प्राप्त 36 आवेदन आने पर 30 बालकों का चयन किया गया।

30 बालको की मुख्य सूची तथा 6 बालकों की प्रतीक्षारत सूची में रखा। विद्यालय के प्रधानाचार्य दिनेश कुमार गुप्ता ने बताया कि कक्षा 2 से 6 में प्रवेश 22 जुलाई, 7 व 8 में 23 जुलाई को रिक्त सीटों पर किया जाएगा। इस अवसर पर विद्यालय के प्रवेश प्रभारी सोम सिंह गुर्जर, सुरेश चंद, महेश चंद गुर्जर, राजवीर सिंह, हेमेंद्र डागुर, हरेंद्र सिंह, गब्बर सिंह, वीरेंद्र सिंह, भारतेंदु शर्मा आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...